अमिताभ बच्चन को आई पिता हरिवंश राय बच्चन की याद, शेयर की 'मधुशाला' की खास पंक्तियां

बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन ने अपने पिता हरिवंश राय बच्चन की कविता 'मधुशाला' का एक अंश शेयर किया है। आइए आपको दिखाते हैं वो पोस्ट।

img

By Kavita Gosainwal Last Updated:

अमिताभ बच्चन को आई पिता हरिवंश राय बच्चन की याद, शेयर की 'मधुशाला' की खास पंक्तियां

एक इंसान चाहे कितना भी बड़ा हो जाए, लेकिन वह अपने माता-पिता को याद करना कभी नहीं भूलता है। हर व्यक्ति अपने माता-पिता की दी हुई शिक्षा के दम पर आगे बढ़ता है और अपने सपनों को साकार करता है। बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन  (Amitbah Bachchan) अपने पिता दिवंगत हरिवंश राय बच्चन (Harivansh Rai Bachchan) को समय-समय पर याद करते नजर आते रहते हैं। बिग बी अक्सर अपने पिता संग तस्वीरें या फिर उनकी कविताओं की पक्तियां सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं। हाल ही में, अमिताभ बच्चन ने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर की है। इसके साथ उन्होंने अपने पिता की मशहूर कविता ‘मधुशाला’ का एक अंश भी लिखा है। आइए आपको दिखाते हैं वो पोस्ट।

दरअसल, अमिताभ बच्चन ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट पर 11 फरवरी 2021 को अपनी एक तस्वीर शेयर की है, इस तस्वीर के साथ अमिताभ बच्चन ने पिता हरिवंश राय बच्चन की द्वारा लिखी गई कविता का एक अंश भी लिखा है। इस तस्वीर में देखा जा सकता है कि बिग बी सूट बूट पहने एक सड़क पर खड़े हैं, जिस पर काफी सारे सूखे पत्ते बिखरे हुए हैं। इस तस्वीर के बैकग्राउंड को पूरा ब्लर किया हुआ है और पूरा फोकस अमिताभ बच्चन पर किया हुआ है। इस तस्वीर के साथ उन्होंने लिखा है, ‘मदिरालय जाने को घर से चलता है पीने वाला, किस पथ से जाऊं, असमंजस में है वो भोला भाला, अलग अलग पथ बतलाते सब, पर मैं ये बतलाता हूं, ‘राह पकड़ तू एक चला चल पा जाएगा मधुशाला...’ (ये भी पढ़ें: EX वाइफ कोंकणा सेन शर्मा के साथ काम नहीं करना चाहते हैं रणवीर शौरी, बेटे के लिए कही ये बात)

इससे पहले, अमिताभ बच्चन ने अपने माता-पिता की एनिवर्सरी पर उन्हें याद करते हुए दो तस्वीरें शेयर की थीं। पहली तस्वीर अभिनेता की मां तेजी बच्चन की है और दूसरी तस्वीर में नन्हे अमिताभ अपनी मां और पिता के साथ नजर आ रहे हैं। इन तस्वीरों के साथ उन्होंने लिखा था, '23 जनवरी की आधी रात बीती और 24 तारीख शुरू हुई... मां और बाबूजी की शादी की सालगिरह... वो शादी जिसने सारे बंधन और सिस्टम तोड़े, जाति और नस्ल से परे बच्चन नाम को अपनाना स्वीकार किया और मुझे इस दुनिया में लाई। दोनों की मुलाकात का किस्सा बाबूजी की ऑटोबायोग्राफी में है। तब से अब तक जो मोमेंट मैंने कैप्चर किए हैं या दोहराया है, वे भी जल्दी ही आपके सामने होंगे।’ (ये भी पढ़ें: अनिता हस्सनंदनी के पति रोहित ने हाॅस्पिटल से शेयर किया बेबी का वीडियो, बेटे को प्यार करते दिखा कपल)

अमिताभ बच्चन और उनके बेटे अभिषेक बच्चन ने दिवंगत हरिवंश राय बच्चन के जन्मदिन पर उन्हें याद किया था। अभिषेक बच्चन ने अपने दादा को याद करते हुए उनकी एक तस्वीर शेयर की थी। इस तस्वीर को शेयर करते हुए उन्होंने कैप्शन में लिखा था, 'जन्मदिन मुबारक हो दादाजी। आज मेरे दादा का 113वां जन्मदिन है। मैं प्रार्थना करता हूं कि मैं आपकी विरासत को सम्मान करने और जीने के लायक बन सकूं। आपकी बहुत याद आती है।' वहीं, अमिताभ बच्चन ने अपने पिता को याद करते हुए एक खास ट्वीट किया था। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था, 'मैं महान काव्य लिखना चाहता हूं, महाकाव्य नहीं !" पर उन्होंने महान काव्य ही नहीं लिखा आत्मकथा के रूप में "महाकाव्य" भी रचा है। गद्यात्मक महाकाव्य... महाकाव्य में पर -चरित होता है, इसमें स्वचरित है। भारत के सर्वाधिक लोकप्रिय कवियों में बच्चन जी का स्थान सुरक्षित।'

फिलहाल, अमिताभ बच्चन अपने पिता हरिवंश राय बच्चन से काफी क्लोज थे, जिसकी झलक उनकी पोस्ट में साफ नजर आती है। तो आपको अमिताभ बच्चन द्वारा शेयर की गई उनकी पिता की पंक्तिया कैसी लगीं? हमें कमेंट बॉक्स में बताएं और अगर आप हमें कोई सुझाव देना चाहते हैं तो जरूर दें।  

(फोटो क्रेडिट: इंस्टाग्राम
BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.