परिवार से छुपकर क्रिकेटर सौरव गांगुली ने की थी शादी, डोना के साथ दोबारा लिए थे फेरे

क्रिकेटर सौरव गांगुली को चौके-छक्के लगाते आपने बहुत देखा होगा, लेकिन क्या आपको पता है कि सौरव ने अपने प्यार को पाने के लिए भी बहुत गेम खेले हैं? तो चलिए क्रिकेटर की लव स्टोरी के बारे में आपको बताएं।

img

By Ritu Singh Last Updated:

परिवार से छुपकर क्रिकेटर सौरव गांगुली ने की थी शादी, डोना के साथ दोबारा लिए थे फेरे

इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कैप्टन सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के फैंस दुनिया भर में हैं, लेकिन वो जिसके फैन थे, उसे पाने के लिए उन्हें कभी बहुत पापड़ बेलने पड़े थे। वह एक बेहतरीन और उम्दा क्रिकेटर रह चुके हैं। पिच पर उन्हें खेलते देखना जितना इंट्रेस्टिंग आपको उस समय लगता रहा होगा, उतना ही आज उनकी लव स्टोरी को सुनकर लगने वाला है। क्रिकेटर की लव स्टोरी सुनने के बाद आपको ऐसा लगेगा कि, जैसे आप किसी फिल्म की स्क्रिप्ट पढ़ रहे हों। सौरव गांगुली ने अपना प्यार यानी डोना गांगुली को पाने के लिए जितना प्रेशर झेला था, उतना तो शायद उन्होंने कभी पिच पर भी महसूस नहीं किया होगा। तमाम जतन के बाद भी जब सौरव उन दिनों अपना प्यार पाने में नाकाम होते जा रहे थे, तब उन्होंने कुछ ऐसा किया कि उनके कदम से सभी भौचक्के रह गए। तो चलिए आपको बताएं कि सौरव गांगुली और डोना की रोमांचक लव स्टोरी के बारे में बताएं।

जिस तरह सौरव गांगुली एक दिलेर कैप्टन हुआ करते थे, उसी तरह वह अपनी लव लाइफ में भी साबित हुए। सौरव ने उस लड़की को अपना दिल दे दिया था, जो उनकी पड़ोसन थीं। पड़ोसी होने से भी बड़ी बात ये थी कि, सौरव की फैमिली उनकी पसंद से खुश नहीं थी। सौरव अपनी बचपन की दोस्त डोना रॉय को अपना हमसफर बनाना चाहते थे, लेकिन उनके घर वाले इसके सबसे बड़े विरोधी थे। सौरव गांगुली बचपन की दोस्त डोना को तब से चाहते थे, जब से उन्होंने प्यार कर मतलब समझा था। सौरव और डोना की दोस्ती कब प्यार में बदल गई, वे भी नहीं जान सके थे। सौरव और डोना का प्यार दोनों के परिवार को ही खटकता था और वे इस संबंध को खत्म करने पर तुले थे। (इसे भी पढ़ें: जब फिल्म ‘रफू चक्कर’ के सेट पर लड़की बने थे ऋषि कपूर, पत्नी नीतू को किस करते हुए वायरल हुई ये फोटो)

एक समय ऐसा था जब सौरव और डोना की फैमिली के एक-दूसरे से दोस्ताना रिश्ते थे। दोनों परिवार का साझा बिजनेस हुआ करता था, लेकिन एक बार बिजनेस में हुई तकरार ने पारिवारिक संबंध को खत्म कर दिया था। दोस्ती और दिलों में गहरी दरारें पैदा हो गई थीं। सौरव और डोना को छोड़कर दोनों का परिवार एक-दूसरे को देखना तक पसंद नहीं करता था, लेकिन इन सब के बीच सौरव गांगुली और डोना का प्यार पनपता रहा। दोनों परिवार के बीच तमाम झगड़े होते रहे, लेकिन वो दोनों एक-दूसरे के साथ खड़े रहे।

सौरव गांगुली अधिकतर डोना से मिलने के लिए छिप-छिपकर उनके स्कूल भी जाया करते थे। सौरव गांगुली 'सेंट जेवियर स्कूल' में पढ़ते थे, जबकि डोना 'लोरेटो कॉन्वेंट स्कूल' की छात्रा थीं। स्कूल जाने के बहाने ही सौरव और डोना एक-दूसरे से मिलते रहते थे। डोना को डांस करना बहुत पसंद था और सौरव हमेशा ही डोना की डांस परफॉर्मेंस देखने के लिए जाया करते थे। वहीं, डोना भी सौरव का क्रिकेट मैच देखने के लिए जाती रहती थीं। कई सालों तक ये सिलसिला ऐसे ही चलता रहा। इस बीच दोनों अपने परिवार को मनाने का प्रयास करते रहे थे, लेकिन परिवार वाले शादी के लिए राजी नहीं हो रहे थे। तब सौरव ने एक प्लान बनाया। सौरव जान गए थे कि उनका और डोना का परिवार उनकी शादी के लिए कभी नहीं मानेगा। ऐसे में उन्हें कुछ ऐसा करना होगा, ताकि उनका परिवार उनके रिश्ते को मानने के लिए मजबूर हो जाए। (इसे भी पढ़ें: किशोर कुमार की तीसरी पत्नी थी ये मशहूर एक्ट्रेस, 2 साल में शादी तोड़ मिथुन चक्रवर्ती संग लिए 7 फेरे)

परिवार वालों से आखिरी बार सौरव ने साल 1996 में एक बार फिर डोना से शादी के लिए बात की, लेकिन वही 'टका सा' जवाब उन्हें मिला। सौरव की फैमिली उन्हें यही कहा करती थी कि, वे डोना को छोड़कर किसी से भी शादी करेंगे, तो उनकी फैमिली को कोई आपत्ति नहीं होगी। लेकिन कपल को ये अहसास हो गया था कि, वे एक-दूसरे के बिना नहीं रह सकते थे। इसी दौरान सौरव गांगुली का चयन इंडियन टीम के लिए हो गया था और जून 1996 में वह इंग्लैंड अपना मैच खेलने चले गए थे। लंदन के लॉर्ड्स मैदान पर सौरव गांगुली ने टेस्ट डेब्यू किया और उसमें शतक भी जड़े थे। सौरव इंडियन टीम में अपनी पहचान बनाने लगे थे, लेकिन प्यार के मामले में वह अपने परिवार को नहीं मना पा रहे थे। (इसे भी पढ़ें: अदनान सामी की लव लाइफः सिंगर ने दूसरी पत्नी से की थी दो बार शादी, चौथी वेडिंग से लाइफ में आई खुशियां)

इंग्लैंड से वापस लौटने के बाद सौरव उस समय के बंगाल के दिग्गज क्रिकेटर और अपने दोस्त मौली बनर्जी के पास गए और अपने दिल का हाल बताया। तब उनके दोस्त मौली ने दोनों को कोर्ट मैरिज करने की सलाह दी। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के बाद सौरव एक फेमस चेहरा बन चुके थे और मीडिया में भी उनकी कवरेज प्रमुखता से छपने लगी थी। उनके प्यार की खबर मीडिया को थी, इसलिए मीडिया कि एक नजर डोना पर भी रहती थी। उधर, 12 अगस्त 1996 को सौरव ने डोना के साथ कोर्ट मैरिज करने का प्लान बना लिया, लेकिन ये बात लीक हो गई और कोर्ट के बाहर मीडिया का जमावड़ा लग गया। सौरव जब डोना के साथ कोर्ट पहुंचे, तो मीडिया को देख कर वह वहां से खिसक लिए।

प्लान फेल होने से दुखी सौरव का साथ उनके दोस्त मौली ने दिया। कोर्ट परिसर से लौट कर आने के बाद मौली ने मैरिज रजिस्ट्रार को अपने घर ही बुला लिया और दोनों की कोर्ट मैरिज अपने ही घर पर करवा दी। शादी के समय सौरव गांगुली 23 साल के थे और डोना महज 20 साल की थीं। दोनों शादी करने के बाद अपने-अपने घरों में चले गए। कुछ दिनों तक तो दोनों के परिवार को इस बात की जानकारी नहीं हुई, लेकिन कुछ दिन के बाद ये राज खुल गया।

इस बात का खुलासा तब हुआ जब मीडिया को दोनों की शादी की भनक लग गई। मीडिया सौरव की जगह डोना के पीछे लग गई। डोना की बढ़ती परेशानी को देखते हुए सौरभ को मीडिया के सामने अपनी शादी की बात लानी पड़ी। सौरव गांगुली, श्रीलंका के दौरे पर जाने से महज 2 दिन पहले मीडिया से रिक्वेस्ट करने के लिए सामने आए कि, वे डोना को परेशान न करें और बातों ही बातों में उन्होंने अपनी शादी का जिक्र भी कर डाला। इसके बाद ही दोनों के परिवारों को शादी के बारे में पता चल गया।

सौरव और डोना ने एक-दूसरे के परिवार को बहुत मनाया और अंत में उनके परिवारवालों ने भी इस शादी को स्वीकार कर लिया और तब दोनों ही परिवारों ने विधिवत बंगाली रीति-रिवाज के साथ डोना और सौरव की दोबारा शादी कराई थी। 2001 में कपल को एक प्यारी सी बेटी सना भी हुई। सौरव गांगुली और डोना की शादी को करीब 24 साल हो गए हैं और दोनों के बीच आज भी उतना ही प्यार नजर आता है। सौरव गांगुली जहां अब बीसीसीआई के अध्यक्ष बन चुके हैं, वहीं उनकी पत्नी डोना 'ओडिशी डांस स्कूल' चलाती हैं।

तो आपको इस कपल की लव स्टोरी कैसी लगी? हमें जरूर बताएं और कोई सुझाव हो तो भी अवश्य दें।

(फोटो क्रेडिट: इंस्टाग्राम)
latest
latest

Loading...

BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.