सायरा बानो से सगाई के दिन दिलीप कुमार की Ex गर्लफ्रेंड ने खा ली थी नींद की दवा, एक्ट्रेस ने खोले राज

बॉलीवुड एक्टर दिलीप कुमार (Dilip Kumar) की पत्नी सायरा बानो (Saira Banu) ने अपनी जिंदगी के बारे में खुलकर बात की है। तो चलिए जानते हैं कि आखिर एक्ट्रेस ने क्या कहा है?

img

By Prakash Joshi Last Updated:

सायरा बानो से सगाई के दिन दिलीप कुमार की Ex गर्लफ्रेंड ने खा ली थी नींद की दवा, एक्ट्रेस ने खोले राज

बॉलीवुड के एवरग्रीन एक्टर दिलीप कुमार (Dilip Kumar) और सायरा बानो (Saira Banu) की क्लासिक जोड़ी को भला कौन नहीं जानता? दोनों के बीच प्यार, विश्वास और एक खास बॉन्डिंग कपल के रिश्ते को और मजबूती देती है। सोशल मीडिया से लेकर असल जिंदगी तक दोनों के बीच अगर कुछ है, तो वो सिर्फ और सिर्फ प्यार ही है। हाल ही में एक इंटरव्यू में सायरा बानो ने दिलीप कुमार और अपने जीवन के बारे में कई बातें बताई हैं, जो शायद ही आपने पहले कभी सुनी हो।

दरअसल, 'टाइम्स ऑफ इंडिया' को दिए एक लेटेस्ट इंटरव्यू में सायरा बानो ने कई सवालों का जवाब दिया और अपनी लाइफ के बारे में खुलकर बात की। सबसे पहले उनसे पूछा गया कि, 'जब आपने पहली बार दिलीप साहब को देखा था। तब आपने उनके बारे में क्या सोचा था?' इस पर सायरा बानो ने बड़ा ही मजेदार जवाब दिया। (ये भी पढ़ें: सुशांत सिंह राजपूत के फैंस के लिए अंकिता लोखंडे ने दिया खास मैसेज, यहां देखें वो वीडियो)

इस पर उन्होंने कहा, 'जब मेरे भाई सुल्तान और मैं इंग्लैंड में पढ़ते थे, मेरी मां नसीम बानो हमें यूरोप में छुट्टी मनाने के लिए ले जाती थीं, हमारी छुट्टियां जुलाई में शुरू होती थी और वो हमें यूरोप घुमाकर फिर हमेशा भारत लाती थीं। वो हमसे आग्रह करती थीं कि हम कभी भी अपने भारतीय मूल्यों को ना छोड़ें। मैंने दिलीप साहब की फिल्म 'आन' को लंदन में देखा था, और मैंने उन्हें पहली बार मुंबई के 'महबूब स्टूडियो' में एक व्यक्ति के रूप में असल में देखा था। उस वक्त उन्होंने एक सादा सफ़ेद शर्ट, सफ़ेद पतलून और सफ़ेद चप्पल पहनी हुई थी। और मुझे उनके उड़ते-लहराते बाल बहुत पसंद थे। मैं फिल्म 'नया दौर' के उनके गाने 'उड़े जुल्फें जब-जब तेरी' के साथ उनके बालों का तालमेल बैठाती थी। वो बाकी लोगों से बहुत अलग दिखते थे। ये महबूब खान ('मदर इंडिया' के निर्देशक) की पार्टी थी, जहां मैं उनसे मिली। यहां मैं उनको देखते ही तुरंत उनके प्यार में पड़ गई थी। मैं तब सिर्फ 12 साल की थी।'

आगे उनसे पूछा गया कि, 'आपने एक बड़े सुपरस्टार से शादी की। क्या उनके साथ एडजस्ट करना मुश्किल था, शायद शुरू में कम से कम?' इस पर सायरा बानो ने कहा, 'हम दोनों अपने करियर में खुद को सेटल कर चुके थे। दिलीप साहब ने वास्तव में जितनी फ़िल्में कीं, उससे कहीं कम फ़िल्में मैंने कीं। उनके साथ मुझे एडजस्ट करने में कोई मुश्किल नहीं थी। दिलीप साहब जमीन से जुड़े हुए व्यक्ति हैं।'

वहीं, उनसे आगे पूछा गया कि, 'एक लड़की थी जो कथित तौर पर दिलीप साहब की प्रेमिका थी, और उसने सगाई के दिन नींद की गोलियां ले लीं थी। क्या आप ऐसी बातों से असुरक्षित महसूस करती थीं?' इस पर उन्होंने कहा, 'जरुरी नहीं। ये मुझे कभी प्रभावित नहीं करेगा। यहां तक ​​कि जिस दिन हमारी सगाई हुई, एक लड़की जो इंडस्ट्री से नहीं थी और जो कि उनकी गर्लफ्रेंड थी, वो नींद की गोलियां लेती थी। दिलीप साहब को उसके पास जाना पड़ा और उसे समझाना पड़ा कि वो मुझसे (सायरा) प्यार करते हैं। उन्होंने उसे शांत किया और सगाई समारोह में वापस आ गए। मुझे इस तरह की चीजों की आदत पड़ गई थी। कई ऐसी लड़कियां भी थीं जो उनकी कार के सामने खड़ी रहतीं और कामना करती थीं कि कार उनके ऊपर चले।' (ये भी पढ़ें: अनिता हस्सनंदनी ने बताया पत्नी से मां बनने तक महिलाओं को होती हैं कितनी परेशानियां, देखें वीडियो)

सायरा दिलीप कुमार की वजह से बनीं एक्ट्रेस

साल 1960 में जब दिलीप कुमार की सुपर हिट रोमांटिक ट्रेजेडी फिल्म 'मुग़ल-ए-आज़म' का मुंबई के मराठा मंदिर में प्रीमियर हुआ था, तो मात्र 16 बरस की सायरा अपने फेवरेट स्टार दिलीप की एकमात्र झलक देखने वहां गई थीं। लेकिन, दिलीप साहब किसी कारणवश इस प्रीमियर में नहीं पहुंचे, जिससे सायरा का दिल बुरी तरह टूट गया। दिलीप साहब से न मिल पाने पर मायूस सायरा ने उस वक्त तय किया था कि वो फिल्मों में काम करेंगी और एक बड़ी स्टार बनेंगी ताकि वो इस एक्टर से शादी कर सकें। इसके बाद अपनी मां और अदाकारा नसीम बानो की मदद से सायरा ने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा, और अपनी मेहनत और काबिलियत के दम पर शम्मी कपूर जैसे बड़े सितारों के साथ काम करना शुरू कर दिया। (ये भी पढ़ें: क्रिसमस की तैयारी में जुटी ईशा देओल की फैमिली, सैंटा कैप में बेहद खूबसूरत दिखीं एक्ट्रेस)

मुलाकात, प्यार और फिर शादी

दिलीप साहब ने सायरा से अपनी केमिस्ट्री का जिक्र अपनी ऑटोबायोग्राफी 'द सबस्टांस एंड द शैडो' में किया है। इस किताब में एक्टर ने बताया है कि वो सायरा से पहली बार एक्ट्रेस की बर्थडे पार्टी में मिले थे, और पहली बार में ही उनकी ख़ूबसूरती के कायल हो गए थे। उन्होंने इस मोमेंट को याद करते हुए अपनी किताब में लिखा है कि, ‘मैं जब अपनी कार से उतरकर घर की ओर जाने वाले बगीचे में पहुंचा, तो सायरा वहीं खड़ी थीं। मुझे आज भी याद है कि खूबसूरत ब्रोकेड साड़ी पहने सायरा को मैं उस वक़्त देखता ही रह गया था। उनकी खूबसूरती ने मुझे अचंभे में डाल दिया था, क्योंकि सायरा अब वो यंग गर्ल नहीं रही थीं, जिनके साथ मैंने जान बूझकर काम करने से मना कर दिया था क्योंकि मुझे लगा कि वो मेरी हीरोइन के रूप में बेहद यंग लगेंगी।’ साथ ही, एक्टर ने ये भी बताया था कि कैसे वो सायरा के प्यार में पड़ गए थे और आज भी उस प्यार से  निकल नहीं पाए हैं। दिलीप ने इस किताब में आगे लिखा है, ‘वो एक लड़की से महिला बन चुकी थीं, और वास्तव में जितना मैंने सोचा था, वो उससे कई ज्यादा सुंदर थीं।'

ये बात शायद कम ही लोग जानते हैं कि दिलीप और सायरा को एक-दूसरे के करीब लाने में सबसे बड़ा हाथ नसीम बानो का ही था। सायरा की मां, नसीम ने ही इन दोनों की मुलाकात कराई थी। इसके बाद ही दोनों के बीच इकरार हुआ और 11 अक्टूबर 1966 में ये परफेक्ट कपल शादी के बंधन में बंध गया। हालांकि, शादी के वक्त सायरा सिर्फ 22 साल की थीं, जबकि उस दौरान दिलीप की उम्र 44 थी। करीब 22 साल के एज गैप होने के बावजूद भी इस कपल की कामयाब मैरिड लाइफ ये दर्शाती है कि जहां बेइंतहा मोहब्बत होती है वहां उम्र के फासलों का कोई वजूद नहीं रह जाता।

फिलहाल, ये कपल अपनी खुशनुमा जिंदगी को खुलकर जी रहा है, और शादी के 54 साल पूरे हो जाने के बाद भी इन दोनों का प्यार आज भी बरकरार है। तो आपको हमारी ये स्टोरी कैसी लगी? हमें कमेंट करके जरूर बताएं, साथ ही हमारे लिए कोई सलाह हो तो अवश्य दें।

(फोटो क्रेडिट-इंस्टाग्राम)
BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.