किशोर कुमार ने की थी 4 शादियां, जिसके लिए बदला था धर्म उसी को आंखों के सामने देखा था मरते हुए

लाखों-करोड़ों दिलों पर राज कर चुके दिवंगत गायक किशोर कुमार (Kishore Kumar) ने 4 शादियां की थी। लेकिन बेहद ही कम लोगों को उनकी शादियों के बारे में जानकारी है, तो चलिए जानते हैं उनकी मैरिज लाइफ के बारे में कुछ खात बातें...

img

By Prakash Joshi Last Updated:

किशोर कुमार ने की थी 4 शादियां, जिसके लिए बदला था धर्म उसी को आंखों के सामने देखा था मरते हुए

"ओ साथी रे, तेरे बिना भी क्या जीना..." 'एक लड़की भीगी भागी सी', 'मेरे महबूब कयामत होगी', 'मेरे सामने वाली खिड़की में', 'मेरे सपनों की रानी कब आएगी तू', ये वो गाने हैं जिन्हें अपनी मधुर आवाज देकर बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार और जाने-माने सिंगर-एक्टर किशोर कुमार (Kishore Kumar) ने हमेशा-हमेशा के लिए अमर कर दिया। किशोर ने कामयाबी के कई मुकाम हासिल किए, लेकिन क्या आप जानते हैं कि उनकी शादीशुदा जिंदगी कैसी रही? तो चलिए आपको उनकी पत्नियों और वैवाहिक जीवन के बारे में बताते हैं।  

किशोर कुमार का असली नाम 'अभास कुमार गांगुली' था। उनका जन्म 4 अगस्त 1929 को मध्य प्रदेश के खंडवा शहर में वहां के जाने माने वकील कुंजीलाल के घर हुआ था और वो अपने भाई-बहनों में दूसरे नंबर पर थे। वहीं, किशोर दा ने अपने समय की 4 अलग-अलग एक्ट्रेस से शादी की थी, जो फिल्म इंडस्ट्री की जानी-मानी हस्ती भी थीं। (ये भी पढ़ें: कोरोना पॉजिटिव अमिताभ और अभिषेक बच्चन हॉस्पिटल में भर्ती, जानें क्या है लेटेस्ट अपडेट) 

रूमा गुहा ठाकुरता (1950 - 1958)

Ruma Guha Thakurta

दरअसल, किशोर कुमार ने अपनी पहली शादी साल 1950 में सत्यजीत रे की भतीजी रूमा गुहा ठाकुरता के साथ रचाई थी। रुमा एक्ट्रेस और सिंगर होने के अलावा एक एक्टिव सोशलिस्ट भी थीं। इस कपल ने बॉम्बे में बड़ी ही धूमधाम से शादी की थी जिसके बाद साल 1952 में उनके घर एक बेटे 'अमित कुमार' ने जन्म लिया। लेकिन शादी के तुरंत बाद से ही दोनों के रिलेशन में दरार आने लगी थी। जहां किशोर कुमार चाहते थे कि रूमा घर पर ही रहकर उनके घर और उनके बेटे की देखभाल करें, तो वहीं रूमा उस स्टारडम को जाने नहीं देना चाहती थीं जो उन्होंने हासिल किया था। ऐसे में इस जोड़े ने अपनी शादी के 8 साल बाद साल 1958 में अलग होने का फैसला किया। रूमा को आखिरी बार साल 2006 में हॉलीवुड फिल्म 'द नेमसेक' (The Namesake) में देखा गया था। 

मधुबाला (1960 - 1969)

Madhubala

'मधुबाला' ये एक ऐसा नाम था जिन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखते ही अपनी एक्टिंग से बॉक्स ऑफिस पर आग लगा दी थी। एक गरीब पठान परिवार में जन्मी मधुबाला ने अपने ब्वॉयफ्रेंड दिलीप कुमार से ब्रेकअप करने के बाद किशोर कुमार के साथ शादी करने का फैसला किया। वहीं इस शादी के लिए किशोर कुमार को अपना धर्म बदलना पड़ा था, जिसके चलते उन्हें अपना नाम 'करीम अब्दुल' रखना पड़ा था, लेकिन इस शादी का काफी विरोध हुआ था। दूसरी तरफ लंबे समय तक दिल की बीमारी से जूझने के बाद साल 1969 में मधुबाला ने दुनिया को अलविदा कह दिया था। एक इंटरव्यू में किशोर दा ने बताया था कि "वो काफी अलग मामला था। मुझे पता था कि वो मुझसे शादी करने से पहले से ही बहुत बीमार थी। लेकिन वादा-वादा होता है। इसलिए मैंने अपनी बात रखी और उन्हें अपनी पत्नी के रूप में घर ले आया। हालांकि, मुझे पता था कि वो जन्म से ही दिल की बीमारी से जूझ रही हैं। 9 साल तक मैंने उनकी देखभाल की। मैंने अपनी आंखों के सामने उन्हें मरते हुए देखा। वो बेहद खूबसूरत महिला थीं लेकिन उनकी मौत बहुत दर्दनाक हुई। वह चीख-चीख कर रोती थीं। इस तरह का एक एक्टिव व्यक्ति 9 साल तक बिस्तर पर कैसे रह सकता है? और मैं उन्हें हर समय हंसाता था। यही बात डॉक्टर ने मुझसे पूछी कि आप ये कैसे करते हैं? यही मैंने उसकी आखिरी सांस तक किया, मैं उसके साथ हंसता और मैं उसके साथ ही रोता था।" (ये भी पढ़ें: 77 की उम्र में फिट अमिताभ बच्चन ने नाती अगस्त्य नंदा के साथ किया वर्कआउट, देखें फोटो)

योगिता बाली (1976- 78)

Yogeeta Bali

मधुबाला के निधन के कई साल बाद किशोर कुमार को एक्टर शम्मी कपूर की पहली पत्नी योगिता बाली से प्यार हुआ। योगिता 70 और 80 के दशक की ऐसी एक्ट्रेस थीं, जिनके ना सिर्फ काम से सभी प्रभावित थे बल्कि उनकी खूबसूरती के भी लोग दीवाने थे। किशोर कुमार के साथ योगिता बाली ने कई फिल्मों में काम किया जिन्हें बड़े पर्दे पर खूब सराहा गया। काम के दौरान ही वो किशोर कुमार को अपना दिल दे बैठीं और फिर जल्द ही उनकी शादी किशोर कुमार से हो गई। सब कुछ अच्छा चल रहा था लेकिन धीरे-धीरे किशोर कुमार और योगिता बाली के बीच अनबन की खबरें आने लगीं और शादी के 2 साल बाद ही दोनों अलग हो गए। एक इंटरव्यू में किशोर कुमार ने कहा था कि "वो एक मजाक था। मुझे नहीं लगता कि वो शादी को लेकर गंभीर थी। वो कभी यहां नहीं रहना चाहती थी।"

लीना चंदावरकर (1980 - 87)

Leena Chandavarkar

बीते जमाने की एक्ट्रेस लीना चंदावरकर का जन्म मुंबई के एक आर्मी परिवार में हुआ। उन्होंने अपनी अदाकारी से दर्शकों के दिल में दशकों तक राज किया। लीना ने अपना करियर 'मन का मीत' फिल्म से शुरू किया था। साल 1975 में लीना की शादी राजनैतिक फैमिली से ताल्लुक रखने वाले सिद्धार्थ बंडोडकर से हुई थी, लेकिन उनके पति को गलती से गोली लग गई थी और उनका काफी समय तक इलाज चला। लेकिन वो आखिरकार जिंदगी की जंग हार गए। इससे लीना डिप्रेशन में चलीं गई थीं, बेटी की ऐसी हालत देख पिता उन्हें अपने घर ले आए और कुछ समय बाद लीना ने फिर से बड़े पर्दे पर काम करने का फैसला किया। यहां उनकी मुलाकात किशोर दा से हुई। जहां पहले दोस्ती, फिर दोनों के बीच प्यार और फिर शादी हो गई। (ये भी पढ़ें: बिग बी ने अपने बच्चों के साथ फोटो शेयर कर पूछा- 'कैसे इतने बड़े हो गए', तो बेटी ने दिया ये जवाब)

लेकिन 13 अक्टूबर 1987 का वो मनहूस दिन आया जब किशोर कुमार ने इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। किशोर दा का बॉलीवुड में अहम योगदान है, जिसे कभी नहीं भुलाया जा सकता। तो आपको हमारी ये स्टोरी कैसी लगी? हमें कमेंट करके जरूर बताएं साथ ही हमारे लिए कोई सलाह हो तो अवश्य दें। 

(फोटो क्रेडिट: )
latest
latest

Loading...

BollywoodShaadis.com © 2020, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.