हितेन तेजवानी और गौरी प्रधान की लव स्टोरी: सिर्फ 11 महीने में ही टूट गई थी एक्टर की पहली शादी

टीवी एक्टर हितेन तेजवानी की पहली शादी 11 महीने में ही टूट गई थी। हितेन की दूसरी वाइफ गौरी प्रधान से उनकी मुलाकात एक इत्तेफाक थी। कपल की लव स्टोरी कब और कैसे शुरू हुई, आइए आपको बताएं।

img

By Ritu Singh Last Updated:

हितेन तेजवानी और गौरी प्रधान की लव स्टोरी: सिर्फ 11 महीने में ही टूट गई थी एक्टर की पहली शादी

टीवी एक्टर हितेन तेजवानी (Hiten Tejwani) और एक्ट्रेस गौरी प्रधान (Gauri Pradhan) की जोड़ी टीवी की सबसे पसंदीदा ‘रील टू रियल लाइफ़’ वाली जोड़ी है। ये जोड़ी जितनी खूबसूरत पर्दे पर नजर आती है, उतनी ही रियल लाइफ में भी दिखती है। इस जोड़ी को देखकर ‘मेड फॉर ईच अदर’ वाली फीलिंग आती है। टीवी शो ‘कुटुम्ब’, ‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ के साथ ही रियलिटी डांस शो ‘नच बलिए’ में कपल ने अपनी शानदार केमिस्ट्री पेश की थी। यही कारण है कि इस क्यूट कपल की फैन फॉलोइंग भी खूब है। हालांकि, ये बात बहुत कम लोग जानते हैं कि गौरी प्रधान, हितेन की दूसरी पत्नी हैं। हितेन की पहली शादी महज 11 महीने में ही टूट गई थी। हितेन की शादी टूटने की वजह क्या थी और कैसे गौरी से उनकी मुलाकात प्यार में बदली, आइए आपको इसके बारे में बताएं।

हितेन जब ‘बिग बॉस’ में आए थे, तब उन्होंने अपनी वाइफ गौरी प्रधान के साथ अपनी लव स्टोरी का खुलासा किया था। हितेन मुंबई के एक सिंधी परिवार से ताल्लुक रखते हैं, जबकि गौरी प्रधान जम्मू के एक आर्मी परिवार से हैं। हितेन तेजवानी ने जब छोटे पर्दे पर एंट्री की थी, तब उनकी शादी हो चुकी थी। करियर की शुरुआत में उन्हें काफी वक्त अपने प्रदर्शन पर देना पड़ता था। ऐसे में हितेन पत्नी को समय नहीं दे पाते थे। उनकी शादी उनके परिवार की मर्जी से हुई थी। हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो हितेन की शादी उनकी मर्जी के खिलाफ उनके घरवालों ने कर दी थी। वजह चाहे जो भी रही हो, लेकिन नई शादी को वक्त न दे पाने के कारण उनकी शादी महज 11 महीने में ही खत्म हो गई।

मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में खुद हितेन ने कहा था कि, 'घरवालों के दबाव में उन्हें जबरन शादी करनी पड़ी थी। पत्नी को समय न दे पाने के कारण दिक्कतें बढ़ने लगी थीं, इसलिए 2001 में हितेन को पत्नी से तलाक लेना पड़ा था।' शादी फेल होने की जिम्मेदारी भी उन्होंने खुद ली थी। वह मानते थे कि पत्नी को समय न दे पाने के कारण ऐसा हुआ था। पहली पत्नी को तलाक देने के बाद हितेन ने अपने करियर पर फोकस करना शुरू कर दिया था और तय किया था कि वह अब दोबारा शादी या तो नहीं करेंगे या करेंगे तो जल्दबाजी नहीं दिखाएंगे, लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था।

हितेन साल 1999 में एक बार ऐड फिल्म की शूटिंग के लिए बैंगलोर जा रहे थे, तभी एयरपोर्ट पर उनकी मुलाकात गौरी प्रधान से हुई। गौरी भी उस वक्त उभरती हुई टीवी एक्ट्रेस थीं। हालांकि, ये बेहद औपचारिक मुलाकात थी। इसके बाद साल 2002 में हितेन और गौरी को एक साबुन का ऐड साथ में करने को मिला। ऐड के दौरान सेट पर गौरी एकदम शांत रहती थीं। ये देखकर हितेन की उनसे बात करने की हिम्मत भी नहीं होती थी, जबकि हितेन बहुत चंचल स्वभाव के थे। गौरी और हितेन के बीच बहुत सामान्य सी बात होती थी।

एक इंटरव्यू में हितेन ने बताया था कि, ‘गौरी शूटिंग के समय सेट पर बहुत चुप रहती थीं और उनकी सादगी देखकर मैं उनसे बात करने को तरसता रहता था, लेकिन हिम्मत नहीं कर पाता था।’ वहीं, गौरी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि, “ऐड शूट के दौरान हितेन बहुत ही बातूनी किस्म के लग रहे थे और ये बात मुझे अच्छी नहीं लग रही थी।” हालांकि, उस वक्त उनको इससे बहुत फर्क नहीं पड़ रहा था कि हितेन कैसे हैं। (इसे भी पढ़ें: पंकज कपूर की लव लाइफः नीलिमा अजीम से ब्रेकअप के बाद सुप्रिया पाठक पर ऐसे आया एक्टर का दिल)

लगभग 6 महीने बाद हितेन और गौरी को टीवी शो ‘कुटुम्ब’ में काम करने का ऑफर मिला। उस वक्त गौरी को हितेन बिल्कुल भी पसंद नहीं थे, लेकिन शूटिंग के दौरान सेट पर जब हितेन से बातचीत का दौर शुरू हुआ तब गौरी को हितेन अच्छे लगने लगे। लगातार एक साथ काम करने के दौरान दोनों का अट्रैक्शन भी बढ़ने लगा था और वो धीरे-धीरे एक-दूसरे को पसंद करने लगे थे। उस दौरान कम ही लोगों को पता था कि हितेन पहले से शादीशुदा थे, लेकिन हितेन ने गौरी से ये बात छुपाई नहीं थी।

एक इंटरव्यू में गौरी और हितेन ने बताया कि, “टीवी शो ‘कुटुम्ब’ में काम करते-करते बातचीत होती गई और वहीं से दोस्ती की शुरुआत हुई और धीरे-धीरे एक-दूसरे का साथ अच्छा लगने लगा। बातें मुलाकातों में बदलने लगीं, और हम साथ बाहर कॉफी-चाय के बहाने मिलने लगे।” (इसे भी पढ़ें: रश्मि देसाई की लव लाइफः तलाक के बाद एक्ट्रेस की जिंदगी में आए 3 एक्टर, लेकिन नहीं बनी किसी से बात)

दोस्ती प्यार में बदल चुकी थी और दोनों एक-दूसरे के साथ रहने में अच्छा महसूस करते थे। इसके बाद कपल लिव-इन- रिलेशनशिप में रहने लगा। दो साल साथ रहने के बाद एक दिन मौका देखकर हितेन ने गौरी को प्रपोज कर दिया। साल 2004 में हितेन और गौरी शादी के बंधन में बंध गए, और साल 2009 में गौरी ने जुड़वा बच्चों नेवान और कात्या को जन्म दिया। (इसे भी पढ़ें: अलवीरा से प्यार करने के बाद भाई सलमान खान से डर रहे थे अतुल अग्निहोत्री, फिर ऐसे बनी थी बात)

हितेन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि, “एक बार मैं बहुत बीमार हो गया था। गौरी को जब पता चला तो उन्होंने अपनी कार से मुझे अस्पताल पहुंचवाया। उस पल मुझे एहसास हुआ कि गौरी बाहर से जितनी सख्त दिखती हैं, अंदर से उनका दिल मोम जैसा है।” वहीं, एक इंटरव्यू में गौरी ने बताया था कि, “मैं हितेन की समझ और उनके सेंस ऑफ़ ह्यूमर की क़ायल हूं। वह बहुत केयरिंग हैं और फैमिली मैन हैं।”

हितेन और गौरी आम कपल की तरह ही एक-दूसरे के साथ नोक-झोंक करते हैं और फिर एक-दूसरे को मना भी लेते हैं। कपल अपनी शादी को ईश्वर का बेहतरीन उपहार मानता है। हितेन और गौरी अपनी बिजी लाइफ से वक्त निकाल कर एक-दूसरे के साथ जितना हो सके रहते हैं। बच्चों के आने के बाद गौरी का कहना है कि, “हितेन में बहुत बदलाव आया है। वह बहुत ज्यादा जिम्मेदार हो गए हैं।” कपल की केमिस्ट्री आज भी पहले दिन जैसी ही नजर आती है और चार लोगों का उनका परिवार बेहद खुशनुमा जिंदगी एंजॉय कर रहा है। हितेन के इंस्टाग्राम पर गौरी की बेशुमार तस्वीरें बताती हैं कि, वह अपनी वाइफ के कितने दीवाने हैं। तो आपको हमारी ये स्टोरी कैसी लगी? हमें जरूर बताएं और कोई सुझाव हो तो वह भी अवश्य दें।

(फोटो क्रेडिट-hitentejwani)
BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.