कपूर खानदान के बेटे और उनकी बीवियां, जिनके बारे में ये दिलचस्प बातें नहीं जानते होंगे आप

कपूर खानदान हिंदी फिल्म इंडस्ट्री का सबसे नामचीन और पुराना खानदान है। आज की इस स्टोरी में हम आपको कपूर खानदान के बेटों और उनकी बीवियों के बारे में कुछ दिलचस्प बातें बताने जा रहे हैं।

img

By Shikha Yadav Last Updated:

कपूर खानदान के बेटे और उनकी बीवियां, जिनके बारे में ये दिलचस्प बातें नहीं जानते होंगे आप

बॉलीवुड घरानों में ‘कपूर घराने’ का नाम बड़े ही सम्मान के साथ लिया जाता है और ऐसा शायद इसलिए क्योंकि कपूर खानदान से बॉलीवुड को कई जनरेशन से एक्टर्स से लेकर डायरेक्टर्स और प्रोड्यूसर्स तक मिले हैं। आज की इस स्टोरी में हम आपको कपूर खानदान के बेटों के साथ उनकी बीवियों के बारे में कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं, जिनके बारे में शायद ही आपको जानकारी होगी।

पृथ्वीराज कपूर और रमा

कपूर परिवार में एक्टिंग की शुरुआत सबसे पहले पृथ्वीराज कपूर (Prithviraj Kapoor) ने की थी। उन्होंने साल 1929 में हिंदी सिनेमा में काम करना शुरू किया था। उनके पिता बशेश्वरनाथ कपूर पेशावर में इंडियन इंपीरियल पुलिस में एक पुलिस ऑफिसर थे। पृथ्वीराज कपूर की शादी रामसरनी मेहरा (Ramsarni Mehra) से हुई थी। इनके तीन बेटे राज कपूर, शम्मी कपूर और शशि कपूर थे। इन सभी ने अपने पिता की एक्टिंग वाली विरासत को आगे बढ़ाया। पृथ्वीराज कपूर और रमा की उर्मी नाम की एक बेटी भी है।

राज कपूर और कृष्णा मल्होत्रा

सबसे बड़े बेटे राज कपूर (Raj Kapoor), जो कि एक फेमस अभिनेता और निर्देशक भी रहे हैं, उनकी 1946 में शादी अपने पिता के मामा की बेटी कृष्णा मल्होत्रा (Krishna Malhotra) से हुई थी। उस वक्त एक फेमस मैगजीन ने अपनी टिप्पणी में लिखा था कि राज कपूर ने अपनी कजिन से शादी करके अपना करियर खत्म कर लिया है। यह शादी उनके परिवार ने फिक्स की थी, क्योंकि वे एक ट्रेडिशनल लड़की चाहते थे। बाद के वर्षों में राज कपूर के कई हीरोइनों जैसे कि नरगिस, वैजयंतीमाला और दक्षिण भारतीय एक्ट्रेस पद्मिनी के साथ भी रिलेशन की अफवाहें उड़ीं। हालांकि, इनमें से किसी ने भी कभी भी सार्वजनिक तौर पर इसे स्वीकार नहीं किया था। राज और कृष्णा कपूर के तीन बेटे और दो बेटियां हैं। जहां दोनों बड़े बेटे रणधीर कपूर और ऋषि कपूर कामयाब अभिनेता बन गए, वहीं सबसे छोटे बेटे राजीव कपूर बॉक्स ऑफिस पर कामयाबी का स्वाद चख नहीं पाए। राज और कृष्णा की दोनों बेटियां रितु नंदा और रीमा कपूर शादी करके खुशहाल जिंदगी बिता रही हैं।

शम्मी कपूर और गीता बाली

पृथ्वीराज के दूसरे बेटे शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) पर उस वक्त लड़कियां जान छिड़का करती थीं। शम्मी कपूर को 1955 में रंगीन रातें के सेट पर अपनी ‘लेडी लव’ गीता बाली (Geeta Bali) मिली थीं। दोनों को एक-दूसरे को तीन जादुई शब्द यानी कि ‘आई लव यू’ बोलने में ज्यादा वक्त नहीं लगा था। इसके 4 महीने के भीतर ही इन्होंने मुंबई के बाणगंगा मंदिर में शादी भी रचा ली थी। इसके अगले साल कपल को एक बेटा भी हो गया, जिनका नाम इन्होंने आदित्य राज कपूर रखा था। वहीं, दोनों की बेटी कंचन शादी के 5 साल के बाद हुई थी। दुर्भाग्य से शादी के सिर्फ 10 साल के बाद स्माल पॉक्स की वजह से 1965 में गीता बाली इस दुनिया से चल बसीं। शम्मी कपूर ने फिर 27 जनवरी, 1969 को शीला देवी से दूसरी शादी रचा ली थी। (ये भी पढ़ें: नसीरुद्दीन शाह ने 15 साल बड़ी महिला से की पहली शादी तो दूसरी बार 7 साल छोटी रत्ना पर ऐसे आया दिल)

शशि कपूर और जेनिफर केंडल

शशि कपूर (Shashi Kapoor) अपने वक्त के सबसे रोमांटिक हीरोज में से एक थे। जब उनके पीछे लड़कियों की लाइन लगी थी, तब वे अपना दिल इंग्लैंड की एक लड़की को दे बैठे थे। एक थिएटर ग्रुप में काम करने के दौरान 1956 में उनकी मुलाकात जेनिफर केंडल (Jennifer Kendal) से कलकत्ता में हुई थी। शशि कपूर तब अपने पिता के थिएटर ग्रुप पृथ्वी थिएटर के लिए असिस्टेंट स्टेज मैनेजर और एक एक्टर के तौर पर काम कर रहे थे। इसी वक्त जैफ्री केंडल का शेक्सपियर ग्रुप भी वहां मौजूद था और जेनिफर जेफ्री की ही बेटी थीं। कई मुलाकातों के बाद शशि और जेनिफर को एहसास हुआ कि वे दोनों एक-दूसरे के साथ प्यार में हैं। जेनिफर की फैमिली शुरुआत में दोनों के रिश्ते से खुश नहीं थी, लेकिन शशि की भाभी गीता बाली की मदद से जेनिफर आखिरकार मिसेज शशि कपूर बन ही गईं। बाद में दोनों ने कुछ फिल्मों में भी साथ में काम किया। शशि और जेनिफर के तीन बच्चे कुणाल, करण और संजना कपूर हैं। कैंसर की वजह से 1984 में जेनिफर की मौत हो गई थी, जिसके बाद शशि कपूर भावनात्मक तौर पर पूरी तरह से टूट गए थे। वहीं, शशि कपूर का भी 5 दिसंबर 2017 को 79 साल की उम्र में निधन हो गया था।

रणधीर कपूर और बबीता

राज कपूर के बड़े बेटे रणधीर कपूर  (Randhir Kapoor) को बॉलीवुड में अच्छी-खासी कामयाबी हाथ लगी थी। फिल्म 'कल आज और कल' की शूटिंग के दौरान वे अपनी को-स्टार बबीता (Babita) के प्यार में पड़ गए थे। इन दोनों ने 6 नवंबर 1971 को शादी कर ली थी। इसके 3 साल के बाद इनकी पहली बेटी करिश्मा कपूर हुईं और 1980 में दूसरी बेटी करीना कपूर ने जन्म लिया। जब 1983 के बाद रणधीर कपूर के करियर का ग्राफ गिरने लगा, तो इन दोनों के बीच मतभेद भी पैदा होने लगे। बबीता ने जब करिश्मा कपूर को बॉलीवुड में भेजने की इच्छा जताई, तो इन दोनों के बीच मतभेद और बढ़ गया, जिसकी वजह से 1988 में बबीता ने रणधीर को अपनी दोनों बेटियों के साथ छोड़ दिया था। बाद में रणधीर कपूर भी अपनी बेटियों के बॉलीवुड में जाने को लेकर सहमत हो गए थे। अक्टूबर, 2007 में बबीता और रणबीर कपूर ने सुलह कर ली थी। भले ही दोनों का तलाक नहीं हुआ था, लेकिन करीब दो दशकों तक दोनों अलग रहे थे।

ऋषि कपूर और नीतू सिंह

बॉलीवुड के ‘चिंटू बॉय’ यानी कि ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) एक्ट्रेस नीतू सिंह (Neetu Singh) के प्यार में पड़ गए थे। दोनों ने साथ में कई फिल्मों में काम किया था। राज कपूर दोनों की शादी के लिए सिंह फैमिली के पास भी गए थे। शुरुआत में इंकार के बाद नीतू की फैमिली शादी के लिए राजी हो गई थी। दोनों ने 22 जनवरी, 1980 को शादी कर ली थी और इनके रिद्धिमा व रणबीर नाम के दो बच्चे हुए। रणबीर कपूर बॉलीवुड में एक्टर के तौर पर खुद को स्थापित कर चुके हैं। वहीं, रिद्धिमा कपूर की शादी दिल्ली के एक बिजनेसमैन से हुई है। रिद्धिमा पेशे से एक मशहूर ज्वेलरी डिजाइनर हैं और ‘R’ नाम का खुद का एक ज्वेलरी ब्रांड चलाती हैं। (ये भी पढ़ें: सतीश शाह की लव स्टोरीः एक्टर के प्रपोजल को वाइफ़ मधु ने कर दिया था रिजेक्ट, फिर ऐसे बनी थी बात)

राजीव कपूर और आरती सभरवाल

राज कपूर के सबसे छोटे बेटे राजीव कपूर (Rajiv Kapoor) उर्फ ‘चिंपू’ ने भी एक्टिंग में अपनी किस्मत आजमाई थी। ‘राम तेरी गंगा मैली’ जैसी एक-दो हिट फिल्में करने के बाद उनका करियर लगभग डूब गया था, जिसके बाद उन्होंने प्रोडक्शन और डायरेक्शन में भी काम किया। उन्होंने 2001 में आर्किटेक्ट आरती सभरवाल (Aarti Sabarwal) से शादी की थी, लेकिन शादी के दो साल के बाद ही इनका तलाक हो गया था। इसके बाद दिव्या रानी, नगमा और कई एक्ट्रेसेस के साथ राजीव कपूर का नाम जुड़ा, लेकिन उन्होंने इन सबको केवल अफवाह करार दिया।

आदित्य राज कपूर और प्रीति

बॉलीवुड एक्टर शम्मी कपूर और गीता के बेटे आदित्य राज कपूर (Aditya Raj Kapoor) को उनकी सौतेली मां नीला ने उनकी बहन कंचन के साथ पाला था। उन्होंने आदित्य का नाम ‘लड्डू’ रख दिया था। आदित्य आध्यात्मिक गुरु हैदाखान बाबा के बड़े भक्त थे। गुरुजी ने उनकी शादी 1982 में प्रीति (Preeti) से हिमालय के अपने आश्रम में करवा दी थी, जिसमें पूरा कपूर परिवार शामिल हुआ था।

कुणाल कपूर और शीना सिप्पी

शशि कपूर के बेटे कुणाल कपूर (Kunal Kapoor) ने केवल 6 फिल्मों में काम किया है। कुणाल कपूर की शादी मशहूर फ़िल्म निर्माता रमेश सिप्पी की बेटी शीना सिप्पी (Sheena Sippy) से हुई थी। इनके जहान और शायरा नाम के दो बच्चे हैं। हालांकि, 2004 में कुणाल और शीना का तलाक हो गया था।

करण कपूर और लोरना

शशि कपूर के सबसे छोटे बेटे करण कपूर (Karan Kapoor) ने 1978 में श्याम बेनेगल की फिल्म ‘जुनून’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया था, लेकिन वे केवल कुल चार फिल्मों में ही नजर आए। करण कपूर ने विदेशी बाला लोरना (Lorna) से शादी की थी और वर्तमान में वे अपनी पत्नी व दो बच्चों के साथ लंदन में रह रहे हैं। इस तरह से हर जनरेशन में कपूर मौजूद रहे हैं और बॉलीवुड में लगभग हर जगह कपूर दिख ही जाते हैं। तो आपको हमारी ये स्टोरी कैसी लगी? हमें कमेंट करके बताएं, साथ ही हमारे लिए कोई सुझाव हो तो हमें अवश्य दें।

(Photo Credit: Instagram)
latest
latest

Loading...

BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.