अपने पुश्तैनी घर को बेचना चाहते हैं रणधीर कपूर! जल्द ही पत्नी बबीता और बेटियों के पास होंगे शिफ्ट

बॉलीवुड अभिनेता रणधीर कपूर ने एक इंटरव्यू दिया है, जिसमें उन्होंने पुश्तैनी घर को बेचने से लेकर अपनी फैमिली के घर के पास शिफ्ट होने तक के बारे में बात की है। आइए आपको बताते हैं क्यों...

img

By Rinki Tiwari Last Updated:

अपने पुश्तैनी घर को बेचना चाहते हैं रणधीर कपूर! जल्द ही पत्नी बबीता और बेटियों के पास होंगे शिफ्ट

बॉलीवुड के दिग्गज निर्माता-निर्देशक राज कपूर के बेटे व अभिनेता रणधीर कपूर (Randhir Kapoor) कुछ दिन पहले कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं, जिससे वो लड़ रहे हैं। हालत बिगड़ने के बाद उन्हें कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि, अब उनकी हालत में सुधार है। इस बीच रणधीर कपूर ने एक इंटरव्यू दिया है, जिसमें उन्होंने अपने पुश्तैनी घर को बेचने से लेकर अपनी पत्नी व बच्चों के पास एक नया घर खरीदने तक के बारे में बात की है। आइए आपको इसके बारे में बताते हैं।

पहले ये जान लीजिए कि, 5 फरवरी 1947 को कपूर फैमिली में जन्मे रणधीर कपूर ने फिल्म 'कल आज और कल' से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। ये फिल्म उनके लिए सिर्फ इसलिए खास नहीं थी कि वह इसमें बतौर लीड एक्टर काम कर रहे थे, बल्कि इसलिए ज्यादा खास थी कि, वो इसी फिल्म के सेट पर अपनी लेडीलव बबीता से मिले थे, जहां से दोनों की लव स्टोरी की शुरुआत हुई थी। रणधीर ने अपनी फैमिली के खिलाफ जाकर अपनी लेडीलव बबीता से शादी की थी। दरअसल, उस समय कपूर खानदान में किसी अभिनेत्री से शादी करना अपराध माना जाता था। ये एक तरह की परंपरा थी, जिसके खिलाफ जाकर रणधीर ने बबीता से शादी रचाई थी। शादी के बाद बबीता ने अपना फिल्मी करियर हमेशा के लिए छोड़ दिया था। हालांकि, रणधीर के पीने की आदत से परेशान होकर बबीता अपनी बेटियों करीना कपूर और करिश्मा को लेकर अलग रहने लगी थीं।

(ये भी पढ़ें- भाई चिंटू-चिंपू के बिना अकेला फील करते हैं रणधीर कपूर, ऋषि कपूर की पुण्यतिथि पर जाहिर किया दुख)

अब आपको बताते हैं एक्टर के लेटेस्ट इंटरव्यू के बारे में। दरअसल, रणधीर कपूर ने ‘ई-टाइम्स’ को एक इंटरव्यू दिया है, जिसमें उन्होंने बताया है कि भाई राजीव कपूर के गुजर जाने से वो बहुत अकेला फील करते हैं, जिसकी वजह से उन्होंने अपना चेंबूर वाला घर बेचकर अपनी पत्नी बबीता और बेटियों करीना व करिश्मा के पास बांद्रा में शिफ्ट होने का फैसला किया है।

रणधीर कपूर ने इंटरव्यू में कहा, ‘राजीव मेरे बेटे जैसा था, जो अक्सर मेरे साथ ही रहता था। उसका अपना पुणे में घर था, लेकिन वो ज्यादातर मुंबई में ही रहता था, लेकिन उसके निधन के बाद मैं काफी अकेला महसूस करता हूं। इसलिए अब मैं बबीता, बेबो (करीना) और लोलो (करिश्मा) के घरों के पास मूव कर रहा हूं।’

चेंबूर वाले घर को बेचने पर रणधीर ने कहा, ‘मेरे माता-पिता ने मुझसे कहा था कि मैं जब तक चाहूं, इस (चेंबूर) घर में रह सकता हूं। लेकिन जिस दिन मैं इसे बेचना का फैसला करूंगा, मुझे अपने भाई-बहन ऋषि, राजीव, ऋतु और रीमा के साथ बिक्री की आय साझा करनी होगी और ये ठीक है। क्योंकि मैंने अपने करियर में खुद के लिए अच्छा किया है और अच्छी जगह इनवेस्ट किया है।’

(ये भी पढ़ें- जान कुमार सानू को डेट नहीं कर रहीं निक्की तंबोली, कहा- 'उनकी मां ने मुझे गाली दिया था')

माता-पिता व भाई-बहन को खो चुके हैं रणधीर कपूर

74 साल के रणधीर कपूर अपने माता-पिता व भाई-बहन को खो चुके हैं। राज कपूर का निधन जहां 1988 में हुआ था, वहीं उनकी मां कृष्णा कपूर ने 1 अक्टूबर 2018 और बहन ऋतु ने 14 जनवरी 2020 में इस दुनिया को अलविदा कहा था। माता-पिता व बहन के अलावा रणधीर ने अपने दोनों भाइयों ऋषि कपूर और राजीव कपूर को भी खो दिया है। ऋषि कपूर का 30 अप्रैल 2020 को निधन हुआ था। वहीं, उनके सबसे छोटे भाई राजीव कपूर ने 9 फरवरी 2021 को इस दुनिया से विदा लिया था। पांच भाई-बहनों में अब सिर्फ रणधीर कपूर और उनकी बहन रीमा जैन बचे हैं, जो एक-दूसरे से बहुत प्यार करते हैं।

(ये भी पढ़ें- ऋषि कपूर की पहली पुण्यतिथि: नीतू कपूर व रिद्धिमा ने लिखा इमोशनल नोट, करीना ने शेयर की फोटो)

फिलहाल, रणधीर कपूर के जल्दी ठीक होने की हम कामना करते हैं। वैसे, रणधीर कपूर के इस फैसले पर आपकी क्या राय है? हमें कमेंट करके जरूर बताएं, साथ ही कोई सुझाव हो तो अवश्य दें।

(फोटो क्रेडिट- रणधीर कपूर)
BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.