बड़ी दर्दभरी है सलीम खान की बचपन की स्टोरी, 4 साल तक मां से नहीं मिल सके थे सलमान के पिता

सलीम खान (Salim Khan) ने एक इंटरव्यू में बताया था कि अपनी मां की मौत से 4 साल पहले तक उन्हें उनसे मिलने की इजाज़त नहीं थी। आखिर ऐसा क्यों था? आज की इस स्टोरी में हम आपको बता रहे हैं.. 

img

By Shikha Yadav Last Updated:

बड़ी दर्दभरी है सलीम खान की बचपन की स्टोरी, 4 साल तक मां से नहीं मिल सके थे सलमान के पिता

दुनिया में मां का ओहदा सबसे बड़ा होता है। एक मां में ही पूरी दुनिया को बदलने की क्षमता होती है। अपने बच्चों के प्रति मां का प्यार नि:स्वार्थ होता है और एक मां ही अपने बच्चे के व्यक्तित्व को संवारती है। मां का स्थान तो ईश्वर से भी ऊपर होता है। आपने अक्सर लोगों को यह कहते सुना होगा कि, 'भगवान की सेवा करना चाहते हैं, तो अपने माता-पिता की सेवा करिए।' कुछ लोग तो मां के पैरों को ही अपना स्वर्ग मानते हैं। वैसे तो सभी की मां, ममता की मूरत और बड़ी प्यारी होती है, लेकिन मां की असली अहमियत अक्सर लोगों को उनके चले जाने के बाद समझ आती है। मां को खो देने का दुख दुनिया का सबसे बड़ा दुख है, लेकिन सबसे ज्यादा दुख तब होता है, जब आप अपनी मां को एक बहुत ही छोटी उम्र में खो देते हैं और उन्हें आखिरी बार देख भी नहीं पाते। ऐसा ही कुछ हुआ था बॉलीवुड के सुपरस्टार अभिनेता सलमान खान (Salman Khan) के पिता और वेटरन स्क्रीनराइटर, सलीम खान (Salim Khan) के साथ।   

सलीम खान ने मात्र 9 साल की छोटी सी उम्र में अपनी मां को खो दिया था और अपनी मां को खोने का गम उन्हें आज भी सताता है। जिन्हें पता नहीं उन्हें बता दें कि, सलीम खान इंदौर के रहने वाले हैं। उनका जन्म 24 नवंबर 1935 में हुआ था, जब अंग्रेज हमारे देश पर राज किया करते थे। सलीम खान भले ही आज किसी पहचान के मोहताज न हों, लेकिन अपनी जिंदगी में उन्होंने बहुत उतार-चढ़ाव देखे हैं और शायद यही वजह है कि आज भी लोग उन्हें बहुत प्यार करते हैं। सलीम खान का बचपन बहुत संघर्षों भरा बीता, जिस वजह से वे आज अपने बच्चों सलमान खान, अरबाज़ खान, सोहेल खान, अलवीरा खान और अर्पिता खान के बेहद करीब हैं। दरअसल, वे अपने बच्चों को वैसा महसूस नहीं होने देना चाहते थे, जैसा उन्होंने खुद अपने बचपन में किया था। (ये भी पढ़ें: अपने बचपन के प्यार से इन 8 स्टार्स ने रचाई शादी, किंग खान से लेकर वरुण धवन तक इस लिस्ट में हैं शामिल)    

सलीम खान ने अपने एक पुराने इंटरव्यू में गांव के साथ अपने कनेक्शन को लेकर बात की थी। इस इंटरव्यू के दौरान सलीम खान ने इंदौर में बिताए गए अपने बचपन के दिनों को याद किया था। हालांकि, सलीम खान को अपने बचपन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा था, इसके बावजूद वे अपने बचपन के दिनों को बेस्ट मानते हैं। उनका कहना है कि, उस समय उनकी जिंदगी अच्छी थी, लेकिन साथ में ट्रैजिक भरी रही। वह अपने परिवार में सबसे छोटे थे और जब वे महज 9 साल के थे, तभी उनकी मां का निधन हो गया था। सलीम खान ने कहा था, “मुझे उनसे मिलने की अनुमति नहीं थी, क्योंकि उन्हें टीबी की बीमारी थी। उनके जीवन के आखिरी 4 साल तक मैं उनसे मिल नहीं पाया था। उस समय इस बीमारी का कोई इलाज नहीं था और यह फैलने वाली बीमारी थी। इतना ही नहीं, डॉक्टर्स भी मरीज का इलाज करने से पहले जरूरी एहतियात बरतते थे। कंपाउंड में उनके लिए एक अलग से कमरा बनाया गया था, जहां वह रहती थीं। उनका खाना वहीं पर पहुंचा दिया जाता था। उनके खाने के बर्तन अलग रखे होते थे। हर साल, 4 महीने वह नैनीताल के भोवाली में रहती थीं और सर्दियों और बारिश के दिनों में इंदौर में रहा करती थीं”।   

सलीम खान के मुताबिक, अपनी मां को इन हालातों से गुजरता हुआ देख उन्हें बहुत दुख भी होता था। उन्हें यह देख कर बहुत दुख पहुंचता था कि, उनकी मां अकेले इस जानलेवा बीमारी का सामना कर रही थीं। सलीम खान ने कहा था, “मेरी मां 4 सालों तक बिस्तर पर रही थीं। मैं आपको एक किस्सा बताना चाहता हूं। एक दिन वह गार्डन में बैठी थीं और मैं वहीं पास में खेल रहा था। उन्होंने वहां काम करने वाले हाउस हेल्पर से पूछा कि मैं कौन हूं? जब उन्हें बताया गया कि, मैं उनका सबसे छोटा बेटा हूं, तो उन्होंने मुझे अपने पास बुलाया। मैं उनके पास जाना चाहता था, लेकिन उन्होंने मुझे मना कर दिया। उनकी आंखों से आंसू निकल आये। उनके चेहरे पर कोई भावना नहीं थी, लेकिन वह रो रही थीं”। (ये भी पढ़ें: आखिर क्यों पिता राज कपूर से राजीव कपूर को थी इतनी नाराजगी? अंतिम संस्कार में भी नहीं हुए थे शामिल)

इस दौरान सलीम साहब ने इस बात का भी खुलासा किया था कि, अपने जीवन के शुरूआती दिनों में वे अपने पिता से क्लोज नहीं थे, लेकिन मां के गुजरने के बाद, उनकी बॉन्डिंग उनके पिता के साथ अच्छी हो गई थी। सलीम खान ने बताया था कि, अपने जीवन के शुरूआती 5 साल उन्होंने अपनी मां के साथ बिताए थे और आखिरी के 4 सालों में वे अपने मां से मिल भी नहीं पाए थे। उन्होंने कहा था, “मां के निधन के बाद मेरी बॉन्डिंग मेरे पिता के साथ मजबूत हुई। वे मेरी सभी जरूरतों का ध्यान रखते थे। मुझे क्रिकेट खेलना बहुत पसंद था, ऐसे में मैं जब भी उनसे नई बॉल या फिर बैट की डिमांड करता, वे फौरन मुझे स्टोर पर ले जाते। हालांकि, उनकी भी मौत मां की मौत के एक साल बाद हो गई थी। जब तक मेरी मां जिंदा थीं, मैं अपने पिता के करीब नहीं था। मैं उनसे डरता था, लेकिन मां के गुजरते ही वे बदल गए थे। उनका व्यवहार पहले से विनम्र हो गया था”।   

बचपन में मिले तजुर्बे से सलीम खान ने सीख ली कि, वे अपने बच्चों के साथ कभी सख्ती से पेश नहीं आएंगे और उनके साथ हमेशा एक दोस्त की तरह रहेंगे। इस बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा था, “तभी से मैंने सोच लिया था कि, मैं अपने बच्चों का दोस्त बनकर रहूंगा। मैंने इस बात का खास ध्यान रखा कि, मेरे बच्चे मुझसे डरें नहीं। वे अपनी प्रॉब्लम को मेरे साथ डिस्कस करते हैं, वे मुझसे भावनात्मक रूप से भी जुड़े हुए हैं। मैं उन्हें सलाह भी देता हूं। उनके बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि उन्हें पता है कि, उन्हें सलाह देने के लिए एक अनुभवी व्यक्ति है। वे मुझसे ज्यादा जानकार हो सकते हैं, मुझसे ज्यादा बुद्धिमान हो सकते हैं, मुझसे ज्यादा पढ़े-लिखे हो सकते हैं, जो कि वे हैं, लेकिन वे ये बात जानते हैं कि मुझे उनसे ज्यादा अनुभव है और इसका कोई विकल्प नहीं है”। (ये भी पढ़ें: पिता जेमिनी गणेशन के साथ वायरल हुई रेखा की ये अनदेखी फोटो, पहचान में नहीं आ रहीं एक्ट्रेस)    

बात करें सलीम खान की पर्सनल लाइफ की तो, उन्होंने दो शादियां की हैं। उनकी पहली पत्नी का नाम सुशीला चरक है, जिन्होंने बाद में अपना नाम बदलकर सलमा रख लिया था। सलमान, अरबाज़, सोहेल, अलवीरा सुशीला चरक के ही बच्चे हैं। वहीं, अर्पिता खान को सलीम खान ने गोद लिया था। सलीम खान की दूसरी बीवी का नाम हेलेन है। हेलेन अपने समय में काफी फेमस हुआ करती थीं। वे अपने जबरदस्त डांस से लोगों को दीवाना बना लिया करती थीं। शुरूआती दौर में सलमा के सभी बच्चे हेलेन को पसंद नहीं करते थे, लेकिन बदलते वक्त के साथ-साथ रिश्ते भी बदले और आज तीनों भाई अपनी दूसरी मां को अपना चुके हैं और उन्हें भी अपनी सगी मां की तरह प्यार करते हैं।

ऐसे में इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि, सलीम खान एक अच्छे इंसान होने के साथ-साथ एक बेहतरीन पिता भी हैं। तोआपको हमारी ये स्टोरी कैसी लगी? हमें कमेंट करके बताएं, साथ ही हमारे लिए कोई सुझाव हो तो हमें अवश्य दें।   

(Photo Credit: Instagram)
BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.