जब शार्मिला टैगोर नही दे पाती थीं बेटे को समय, तब सैफ अली खान की 'दूसरी मां' ने की थी उनकी देखभाल

बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री रह चुकीं शर्मिला टैगोर (Sharmila Tagore) की एक अनदेखी फोटो इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। इस फोटो में वह नन्हे सैफ और बेटी सोहा के साथ दिखाई दे रही हैं।

img

By Shivakant Shukla Last Updated:

जब शार्मिला टैगोर नही दे पाती थीं बेटे को समय, तब सैफ अली खान की 'दूसरी मां' ने की थी उनकी देखभाल

बॉलीवुड अभिनेता सैफ अली खान (Saif Ali Khan) ‘छोटे नवाब’ के नाम से जाने जाते हैं। वे अपने जमाने की मशहूर अभिनेत्री रह चुकीं वेटरन एक्ट्रेस शर्मिला टैगोर (Sharmila Tagore) के बेटे हैं। सैफ को अपनी मां शर्मिला टैगोर से बहुत प्यार है। शर्मिला टैगोर भी अपने बेटे सैफ अली खान से बहुत प्यार करती हैं। शर्मिला टैगोर ने एक बार खुद इस बात को स्वीकार किया था कि जितना वक्त उन्होंने अपनी बेटियों सोहा अली खान और सबा अली खान को बचपन में दिया था, उतना वक्त वे सैफ अली खान को नहीं दे पाई थीं। 

दरअसल, वर्ष 2017 में शर्मिला टैगोर की अपने बेटे सैफ अली खान और बेटी सोहा अली खान के साथ एक अनदेखी तस्वीर सामने आई थी, जो कि सोशल मीडिया पर इन दिनों बहुत वायरल हो रही है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही यह फोटो ब्लैक एंड व्हाइट है। फोटो के साथ इसका कैप्शन भी लोगों को खूब पसंद आ रहा है, जिसमें बताया गया है कि बचपन में शर्मिला टैगोर ने अपनी बेटियों सोहा अली खान और सबा अली खान को पूरा वक्त दिया था। उन्होंने बहुत अच्छी तरह से इनकी परवरिश की थी और ऐसा इसलिए संभव हो पाया था क्योंकि उस वक्त उनके पास ज्यादा काम नहीं हुआ करता था।

नहीं दे पाई थीं बेटे को वक्त 

कुछ वर्ष पहले शर्मिला टैगोर ने न्यूज़ पेपर 'डीएनए (DNA)' को एक इंटरव्यू दिया था, जिसमें उन्होंने बताया था कि जब सैफ अली खान को बड़ा करने का समय आया तो वे उन्हें ज्यादा वक्त नहीं दे पाई थीं। शर्मिला के मुताबिक, सैफ जब बड़े हो रहे थे और जब उन्हें अपनी मां की जरूरत थी तो उस दौरान वे पूरी तरीके से अपने बेटे के साथ नहीं थीं। शर्मिला टैगोर ने बताया था कि उस वक्त वे कुछ ज्यादा ही अपने काम में व्यस्त चल रही थीं। उनके ऊपर काम का बहुत अधिक दबाव था। वे तब दो शिफ्ट में काम कर रही थीं और उनके पास सैफ को देने के लिए समय ही नहीं बचता था।

शर्मिला टैगोर का कहना है था कि उस मुश्किल वक्त में उनके पति ने उनका पूरा साथ दिया था। उन्होंने उन्हें समझा था और हर कदम पर उनका साथ निभाया था। शर्मिला टैगोर का कहना था कि उनकी पड़ोसी सुनीता गोस्वामी ने भी तब उनकी बड़ी मदद की थी। वे सैफ अली खान के स्कूल 'सैफी महल' में पढ़ाती भी थीं। यह स्कूल वाकई में बहुत लाजवाब था, जिसे उस वक्त मिसेज नूरानी चलाया करती थीं। (ये भी पढ़ें: जीनत अमान को पसंद करते थे सुपरस्टार देव आनंद, इस बात से अभिनेत्री थीं अनजान)   

शर्मिला इन्हें मानती थीं सैफ की 'दूसरी मां'

मिसेज नूरानी को तो शर्मिला टैगोर ने सैफ अली खान की दूसरी मां तक करार दे दिया था। उन्होंने कहा था कि मिसेज नूरानी ने बिल्कुल सैफ अली खान को उनकी दूसरी मां के तौर पर प्यार दिया है। यही नहीं, उनके पति जतिन ने भी सैफ अली खान का बहुत ध्यान रखा था। शर्मिला टैगोर के मुताबिक, सैफ अली खान ने जब अपना करियर बना लिया था और वे अपनी जिंदगी में सफलता के नये आयामों को छूने लगे थे, तो उनकी सफलता के जश्न में शरीक होने के लिए वे हमेशा उनके साथ थीं। अपने बेटे की हर कामयाबी के वक्त वे उनके साथ मौजूद रही थीं। फिर भी शर्मिला को इस बात का अफसोस रहा है कि जब सैफ अली खान का बचपन बीत रहा था और वे बड़े हो रहे थे, तो उस दौरान वे उनके साथ ज्यादा समय नहीं बिता सकी थीं। (ये भी पढ़ें: जब माधुरी दीक्षित ने पति श्रीराम नेने के अमेरिकन अंग्रेजी का इंडियन लैंग्वेज में किया उच्चारण)    

शर्मिला ने 'DNA' से इंटरव्यू में बताया था कि उनकी बेटियों ने जब जन्म लिया था, तो उस वक्त उनके पास समय ही समय हुआ करता था। उस वक्त वे ज्यादा काम के बोझ तले नहीं दबी थीं। ऐसे में बेटियों को देने के लिए उनके पास भरपूर वक्त था। बेटियों को वे अच्छी तरह से पाल-पोस कर बड़ा कर सकीं। हालांकि, सैफ अली खान के मामले में उनकी स्थिति बिल्कुल इसके उलट रही। वैसे, देखा जाए तो सैफ अली खान को अपनी मां के लिए जितनी फिक्र रहती है, उसे देख कर यह बिल्कुल भी नहीं कहा जा सकता कि सैफ को अपनी मां शर्मिला टैगोर से कोई भी शिकायत रही है।

जब सैफ को सताई थी मां की फिक्र

बीते लॉकडाउन के दौरान सैफ अली खान ने अपनी मां शर्मिला टैगोर को लेकर चिंता व्यक्त की थी। उन्होंने कहा था कि, “मेरी मां अचानक से अजीबोगरीब बातें करने लगी हैं। उनका कहना है कि उन्होंने अपनी पूरी जिंदगी जी ली है। उन्हें अब अपनी जिंदगी से कोई शिकायत भी नहीं है। मां जब यह कहती हैं तो मुझे बहुत डर लगने लगता है”। सैफ अली खान की इस बात से साफ नजर आ रहा था कि वे तब दिल्ली में फंसी अपनी मां शर्मिला टैगोर को लेकर कितने चिंतित थे। गौरतलब है कि शर्मिला टैगोर ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान नवाब पटौदी से शादी करने के बाद अपना धर्म बदल लिया था। उनका नाम ‘आयशा सुल्तान’ हो गया था। शर्मिला टैगोर अपने जमाने की सबसे खूबसूरत अभिनेत्रियों में एक रही हैं। खासतौर पर ‘आराधना’, ‘अमर प्रेम’ और ‘दाग’ जैसी फिल्मों में उनकी भूमिका को आज भी याद किया जाता है। (ये भी पढ़ें: टीवी की 8 फेमस ननद-भाभी की जोड़ियां, जो एक-दूसरे से करती है बहनों जैसा प्यार)

जैसी सैफ अली खान की पर्सनालिटी है और जिस तरह से वे लोगों से मिलते हैं, उसे देखकर तो यही लगता है कि सैफ की परवरिश बहुत अच्छी हुई है। तो आपको हमारी ये स्टोरी कैसी लगी? हमें कमेंट करके बताएं, साथ ही हमारे लिए कोई सुझाव हो तो हमें अवश्य दें।

(Photo Credit: Instagram)
latest
latest

Loading...

BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.