पोते तैमूर को लेकर काफी टेंशन में हैं दादी शर्मिला टैगोर, मीडिया से ये रिक्वेस्ट करती आईं नजर

बॉलीवुड एक्ट्रेस शर्मिला टैगोर ने हाल ही में दिए गए एक इंटरव्यू में बताया है कि वो अपने पोते तैमूर अली खान को लेकर काफी चिंतित हैं। आइए जानते हैं इसके पीछे की वजह।

img

By Vidushi Gupta Last Updated:

पोते तैमूर को लेकर काफी टेंशन में हैं दादी शर्मिला टैगोर, मीडिया से ये रिक्वेस्ट करती आईं नजर

पटौदी फैमिली के सबसे यंगेस्ट नवाब तैमूर अली खान (Taimur Ali Khan) की सोशल मीडिया और बॉलीवुड सेलेब्स के बीच एक क्रेजी फैन फॉलोइंग है। यहां तक, पैपाराजी भी बॉलीवुड एक्ट्रेस करीना कपूर (Kareena Kapoor) और सैफ अली खान (Saif Ali Khan) के लाडले की तस्वीरें फैंस के साथ शेयर करने का कोई भी मौका मिस नहीं करते हैं।

हालांकि, इस बात से उनकी दादी मां और एक्ट्रेस शर्मिला टैगोर (Sharmila Tagore) काफी चिंतित हैं। हाल ही में दिए गए एक इंटरव्यू में शर्मिला ने अपने पोते तैमूर के लगातार स्पॉटलाइट में बने रहने को लेकर अपनी चिंता व्यक्त की है। (ये भी पढ़ें: बहू करीना कपूर से लेकर दामाद कुणाल खेमू तक सभी ने शर्मिला टैगोर को खास अंदाज में विश किया बर्थडे)

इस बारे में आगे जानने से पहले आपको बता देते हैं कि 16 अक्टूबर 2012 को करीना कपूर और सैफ अली खान ने शादी की थी, दोनों की शादी के चार साल सफल बीतने के बाद तैमूर का जन्म हुआ था। हालांकि, सैफ अली खान पहले से दो बच्चों के पिता थे। उनकी पहली पत्नी अमृता सिंह से उनको दो बच्चे सारा अली खान और इब्राहिम खान हैं, लेकिन करीना कपूर के लिए ये पहला मौका था जब वो मां बनी थीं।

अब आपको बताते हैं कि शर्मिला टैगोर तैमूर को लेकर क्यूं टेंशन में हैं? दरअसल, ‘स्पॉटबॉय’ से बातचीत के दौरान एक्ट्रेस ने कहा कि अभी तैमूर को जो भी अटेंशन मिल रहा है, उस पर ध्यान देने के लिए वो अभी काफी यंग है, लेकिन उसके बड़े होने पर ये सभी चीजें उसे प्रभावित कर सकती हैं। यही नहीं, शर्मिला मीडिया से अपने पोते के प्रति सेंसिटिव होने की भी रिक्वेस्ट करती नजर आईं।

शर्मिला ने कहा, “मुझे ये स्वीकार करना चाहिए कि मैं उसके बारे में थोड़ी चिंतित हूं। इस परिवार में हम सभी ने मीडिया का अटेंशन खींचा है। वो आपको एक कुर्सी पर बैठाते हैं और फिर अचानक उससे गिरा देते हैं। इस समय तैमूर को इन सबसे कोई फर्क नहीं पड़ रहा है क्योंकि वो इन सब चीजों को समझने के लिए काफी यंग है। लेकिन बाद में, जब वो बड़ा होगा और उसे ये अटेंशन नहीं मिलेगा तब उसे इस बात का फर्क पड़ सकता है। तो हम इसलिए थोड़े चिंतित हैं। लेकिन जैसा कि सारा ने कहा कि हम इस बारे में क्या कर सकते हैं? सच बताऊं तो मीडिया के बिना हम आज के टाइम में जीवित नहीं हैं।” (ये भी पढ़ें: राहुल वैद्य के घर जल्द बज सकती हैं शादी की शहनाइयां! मां गीता वैद्य बोलीं, ‘कर रहे हैं प्लानिंग’)

इसके अलावा, जब शर्मिला से सवाल पूछा गया कि क्या तैमूर आप सभी से ज्यादा लाइमलाइट में रहते हैं, तो इस पर जवाब देते हुए शर्मिला ने हंसते हुए कहा, “वो अभी मासूम और यंग है। हम आशा करते हैं कि वो इन सब से प्रभावित नहीं होगा। मैं मीडिया से उसके प्रति थोड़ा और सेंसिटिव होने के लिए रिक्वेस्ट करना चाहूंगी।

यहीं नहीं, इस दौरान शर्मिला अपनी पोती सारा अली खान के बारे में भी बात करते हुए नजर आईं। एक्ट्रेस ने कहा कि उन्हें सारा पर काफी प्राउड है। शर्मिला ने बताया, “जब सारा से पूछा गया कि वो कोलंबिया यूनिवर्सिटी से पढ़ कर आने के बाद फिल्मों में क्या कर रही हैं, तो उन्होंने कहा था कि एजुकेशन उनके करियर के लिए नहीं बल्कि उनकी पर्सनल ग्रोथ के लिए थी। उनकी जुबां कभी नहीं फिसली है, और वो अपने पिता के लिए कितने अच्छे तरीके से करण जौहर के शो में खड़ी हुई थीं। मुझे उन पर वास्तव में गर्व है।”

शर्मिला टैगोर की लव स्टोरी

अगर सैफ अली खान की मां और तैमूर की दादी शर्मिला टैगोर की लव लाइफ के बारे में बात की जाए, तो अपने करियर के पीक के दौरान एक्ट्रेस ने मंसूर अली खान पटौदी से शादी की थी। दोनों की पहली मुलाकात 1965 में दिल्ली में हुई थी। शर्मिला उन दिनों एक फिल्म की शूटिंग के सिलसिले में दिल्ली में थी और पटौदी भी वहीं मौजूद थे। उस समय पटौदी इंडियन टीम के कप्तान थे। दोनों की मुलाकात एक कॉमन फ्रेंड ने कराई थी। पहली नज़र में ही दोनों एक-दूसरे पर फिदा हो गए थे, लेकिन उनके प्यार और शादी की राह आसान नहीं थी। प्यार और मुलाकात का सिलसिला चलता रहा। आगे चलकर इन दोनों का प्यार परवान चढ़ा और बात शादी तक पहुंच गई। और फिर शादी करने के लिए शर्मिला को अपना धर्म बदलने के लिए भी हामी भरनी पड़ी थी। इस्लाम कबूल करने के बाद शर्मिला ने 27 दिसंबर 1969 को बाल्व डेर स्टेट कोलकाता में नवाब पटौदी संग शादी कर ली थी। शर्मिला और नवाब पटौदी ने अपने प्यार की मिसाल पेश की और एक सफल व लंबा जीवन साथ गुजारा। (ये भी पढ़ें: 4 साल तक अर्चना पूरन सिंह को छिपानी पड़ी थी अपनी शादी, अब खुद बताई इसके पीछे की वजह)

Sharmila Tagore and Mansoor Ali Khan Pataudi

सोहा, सबा और सैफ अली खान के पेरेंट्स बनने वाले इस कपल ने साबित कर दिया कि प्यार के आगे धर्म, जाति या उम्र कोई मायने नहीं रखती है। 5 जनवरी 1941 को जन्मे क्रिकेटर नवाब मंसूर अली खान पटौदी ने बीमारी से लड़ते हुए 22 सितंबर 2011 को दुनिया को अलविदा कह दिया। आखिरी सांस तक शर्मिला उनके साथ रहीं। इस तरह पटौदी और शर्मिला का रिश्ता 47 साल तक बना रहा।

फिलहाल, ऐसा प्रतीत हो रहा है कि तैमूर को मिलने वाले अटेंशन को लेकर उनकी दादी शर्मिला टैगोर थोड़ी टेंशन में हैं। तो आपकी इस बारे में क्या राय है? हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं, साथ ही कोई सुझाव हो तो अवश्य दें।  

BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.