सास ऋतु नंदा को याद कर भावुक हुईं श्वेता बच्चन, अमिताभ बच्चन-जया बच्चन भी नहीं रोक पाए अपने आंसू

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की समधन ऋतु नंदा (Ritu Nanda) की प्रार्थना सभा से एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें श्वेता बच्चन (Shweta Bachchan) अपनी सास को याद कर बेहद भावुक होती हुईं नजर आ रही हैं।

img

By Tripti Sharma Last Updated:

सास ऋतु नंदा को याद कर भावुक हुईं श्वेता बच्चन, अमिताभ बच्चन-जया बच्चन भी नहीं रोक पाए अपने आंसू

मृत्यु का मन में ख्याल भी आ जाए तो मन अजीब हो जाता है। युगों-युगों से मानव प्रयासरत है कि वह मुत्यु पर विजय प्राप्त कर सके। वह इच्छानुसार जीवन जी सके, पर उसे इसमें लेशमात्र भी सफलता प्राप्त नहीं हो सकी है। जो जन्मा है, उसका मरण निश्चित है फिर भी शरीर में बसनेवाली आत्मा अमर है। जीवन की पहली सांस से अंतिम सांस तक की यात्रा एक क्षणभंगुर (क्षण भर में नष्ट हो जाने वाला) है। जीवन का सबसे बड़ा सत्य है मृत्यु जिसे कोई टाल नहीं सकता। जो जन्मा है उसकी मृत्यु होने भी तय है। लेकिन इस यात्रा का सबसे मुश्किल सफर है अपने करीबियों के बीच से विदा लेना। कुछ ऐसा ही मंजर हमें हाल-फिलहाल में देखने को मिल रहा है जब बॉलीवुड के दो बड़े घराने इस पीड़ा से त्रस्त हैं। जी हां, हम यहां बात कर रहे हैं सदी के महानायक अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) और राज कपूर के परिवार की जो आजकल ऋतु नंदा (Ritu Nanda) के निधन से शोकाकुल हैं।

जीवन और मृत्यु के बीच भेद बहुत गहरा है, उस भेद को समझ पाना भले ही हम-आप जैसे साधारण मनुष्यों के लिए संभव ना हो लेकिन यह भी असत्य नहीं कहा जा सकता कि उसी भेद के समंदर में डूबते-उतरते हुए हम अपना हर पल जीते हैं। 14 जनवरी, 2020 की रात बच्चन और कपूर परिवार के लिए भी कुछ ऐसी ही थी। जिन्होंने नम आंखों से श्वेता बच्चन नंदा की सास और ऋषि कपूर की बहन ऋतु नंदा को आखिरी विदाई दी। वह पिछले 7 साल से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित थी और साल 2013 में बीमारी का पता चलने के बाद वह इलाज के लिए अमेरिका चली गई थी। ऋतु नंदा का अंतिम संस्कार दिल्ली में किया गया। इस दौरान अमिताभ बच्चन समेत उनका पूरा परिवार उन्हें अंतिम विदाई देने पहुंचा। ऋतु नंदा के निधन की जानकारी बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने भी अपने ब्लॉग पर शेयर की थी। उन्होंने लिखा- मेरी समधन, ऋतु नंदा, श्वेता की सासू मां का आज सुबह 1:15 बजे निधन हो गया। (ये भी पढ़ें:समधन ऋतु नंदा के चौथे में एक बार फिर भावुक हुए अमिताभ बच्चन, लिखी दिल छू लेने वाली बात)

(फोटो-इंस्टाग्राम)

वहीं बीते दिन यानि सोमवार को ऋतु नंदा की याद में एक प्रार्थना सभा रखी गई जिसमें कपूर परिवार के साथ बच्चन परिवार भी शामिल हुआ। प्रार्थना सभा में अमिताभ बच्चन, जया बच्चन, अभिषेक बच्चन, श्वेता नंदा, ऋषि कपूर, रणधीर कपूर, बबिता कपूर, राजीव कपूर, रीमा जैन, मनोज जैन और नव्या नंदा भी मौजूद थे। ऋतु नंदा की प्रार्थना सभा से जुड़ा एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें अमिताभ बच्चन उन्हें याद कर भावुक होते हुए नजर आ रहे हैं। उनके अलावा जया बच्चन, श्वेता बच्चन नंदा और ऋषि कपूर भी ऋतु नंदा को याद कर अपने आंसू पोंछते दिखाई दे रहे हैं। वीडियो की शुरुआत अमिताभ बच्चन ऋतु नंदा को याद करते हुए कहते हैं, "एक आदर्श बेटी, एक आदर्श बहन, एक आदर्श पत्नी, एक आदर्श मां ऋतु। अमिताभ बच्चन की स्पीच के बाद प्रार्थना सभा में राज कपूर की फिल्म मेरा नाम जोकर का गाना जीना यहां और मरना यहां गाया जाता है। इस वीडियो में बबीता कपूर, नीतू कपूर, रणधीर कपूर, ऋषि कपूर, जया बच्चन, नव्या नवेली नंदा और परिवार के बाकी सदस्य काफी गुमसुम बैठे हुए नजर आते हैं। जबकि श्वेता बच्चन अपने आंसू नहीं रोक पाईं।

गाने को सुनते ही अमिताभ बच्चन सहित वहां बैठे सभी लोग भावुक हो गए। समधन के जाने का दुख अमिताभ बच्चन के चेहरे पर साफ नजर आ रहा था। साथ ही जया बच्चन और श्वेता नंदा भी खुद को नहीं रोक पाईं और उनकी आंखों में आंसू आ गए। वहीं, अपनी बड़ी बहन के साथ बिताए गए पलों को भी ऋषि कपूर याद करते हुए काफी इमोशनल नजर आए वो पूरी सभा में सिर झुकाए बैठे रहे। बता दें कि साल 2018 में श्वेता बच्चन के ससुर यानी ऋतु नंदा के पति राजन नंदा का निधन हो गया था। ऋतु नंदा के नाम एक विश्व रिकॉर्ड भी था। जब साल 1980 में उन्होंने इंश्योरेंस एजेंट बन एक ही दिन में एलाईसी की 17 हजार पेंशन पॉलिसीज बेच दी थी। ये दूसरी बार था जब उन्होंने किसी बिजनेस में हाथ डाला था। इससे पहले उनकी NikiTasha नाम की किचन एप्लायंस कंपनी बहुत सक्सेसफुल नहीं रही थी। इसके अलावा ऋतु नंदा इंश्योरेंस सर्विस की अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी थीं। (ये भी पढ़ें: रघु राम की एक्स-वाइफ सुगंधा गर्ग ने क्लिक की रिदम की पेरेंट्स संग खूबसूरत तस्वीरें, देखिए क्यूट फोटो)

इतना ही नहीं 18 जनवरी 2020 को समधन ऋतु नंदा के चौथे पर एक बार फिर सदी के महानायक अमिताभ बच्चन भावुक हो गए। अपनी समधन के निधन को शोक जताते हुए उन्होंने लिखा, पवित्र नदी के पानी में विसर्जित करना ... राख के रूप में पढ़ा जा सकता है ... धाराओं के प्रवाह से बहने वाली ... प्रार्थना .. एक कोमल बारिश .. एक आशीर्वाद .. और कल 4वें दिन, 'चौथा' .. प्रार्थना पूरी होती है ... और परंपराएं जारी रहती हैं.. अर्थ और कारण होना चाहिए .. धार्मिक पवित्रता होनी चाहिए .. विश्वास होना चाहिए ...पीढ़ी से पीढ़ी तक एक सीख... इसकी पवित्रता और इसकी प्रासंगिकता, उम्र के माध्यम से स्वीकार और सम्मानित किया गया। अब केवल छवियां और यादें .. विशद, भावनात्मक, ईमानदार और स्थायी .. फिर जीवन आगे बढ़ता है .. हमेशा अपनों को जन्म और मृत्यु के दिनों में याद किया जाता है। या तो प्रार्थना में... या स्मरण में... गंभीर अवसरों ने अपनी कल्पना के साथ व्यक्तिगत रूप को बनाया.... दिन की शुरुआत से पहले प्रत्येक सुबह की मांग की .. एक स्पर्श .. एक मौन क्षण .. यही एक घटना है जीवन की एक तस्वीर.. (ये भी पढ़ें: काम्या पंजाबी इस दिन लेंगी बॉयफ्रेंड शलभ दांग संग सात फेरे, एक्ट्रेस ने शेयर किया शादी का कार्ड)

खैर, जाने वाले को कौन रोक सकता है, लेकिन हम तो हर पल कपूर और बच्चन परिवार को इस दुख से बाहर निकलने की जल्द से जल्द कामना करते हैं। आपको हमारी ये स्टोरी कैसी लगी हमें कमेंट करके बताना न भूलें हमारे लिए कोई सलाह है तो जरूर दें।

BollywoodShaadis.com © 2022, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.