शम्मी कपूर लव लाइफ: पहला प्यार रह गया था अधूरा, तो दूसरी पत्नी के सामने रखी थी ये बड़ी शर्त

भारतीय सिनेमा के दिग्गज अभिनेताओं में से एक शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) ने फिल्मी पर्दे पर कई अभिनेत्रियों के साथ रोमांस किया। लेकिन उनकी रियल लव लाइफ के बारे में बेहद ही कम लोग जानते हैं। तो चलिए आपको बताते हैं इस बारे में...

img

By Prakash Joshi Last Updated:

शम्मी कपूर लव लाइफ: पहला प्यार रह गया था अधूरा, तो दूसरी पत्नी के सामने रखी थी ये बड़ी शर्त

शम्मी कपूर (Shammi Kapoor) भारतीय सिनेमा के दिग्गज अभिनेताओं में से एक थे। 1950 से लेकर 1970 के दशक के बीच फिल्म इंडस्ट्री में उनका काफी बोलबाला था। बड़े पर्दे पर अपनी दमदार एक्टिंग हो या फिर किरदार में जान फूंकने की बात, इन दोनों ही कला में वो माहिर थे और बॉलीवुड को आज भी उन पर नाज है। जहां एक तरफ एक्टर शम्मी कपूर ने फिल्मी पर्दे पर कई अभिनेत्रियों के साथ रोमांस किया, तो वहीं दूसरी तरफ उनकी रियल लव लाइफ काफी संघर्ष से भरी रही। इनकी पर्सनल लाइफ के बारे में बेहद ही कम लोग जानते हैं। तो चलिए हम आपको बताते हैं इस बारे में...

Shammi Kapoor's Love Life

बताते चलें कि दिवंगत एक्टर शम्मी कपूर का जन्म 21 अक्टूबर 1931 को मुंबई के जाने-माने कपूर परिवार में हुआ था। उनके पिता महान अभिनेता पृथ्वीराज कपूर थे और उनके दो भाई राज कपूर और शशि कपूर थे। (ये भी पढ़ें: राजेश खन्ना और डिंपल कपाड़िया की लव-हेट स्टोरी, कुछ ऐसी थी इस सुपरस्टार की लाइफ)

Shammi Kapoor's Love Life

शम्मी ने साल 1953 में आई फिल्म 'जीवन ज्योति' से बॉलीवुड में डेब्यू किया था, फिल्म बॉक्स-ऑफिस पर कुछ खाम कमाल नहीं कर पाई। लेकिन वो कहते हैं ना कि किस्मत बदलते हुए देर नहीं लगती। एक्टर शम्मी कपूर के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ और साल 1957 में उन्होंने फिल्म 'तुम सा नहीं देखा' में काम किया और इस फिल्म ने कामयाबी के कई झंडे गाड़े। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और 'दिल देके देखो', 'सिंगापुर', 'जंगली', 'कॉलेज गर्ल', 'प्रोफेसर', 'चाइना टाउन', 'प्यार किया तो डरना क्या' जैसी कई सुपर हिट फिल्में दीं।

नूतन के लिए आई थी पहली फीलिंग

Shammi Kapoor's Love Life

उस दौर की बेहतरीन एक्ट्रेस में से एक नूतन और शम्मी कपूर एक साथ बड़े हुए क्योंकि वो एक-दूसरे के पड़ोसी थे। कहा जाता है कि शम्मी बचपन से ही उन्हें प्यार करते थे और नूतन भी उन्हें पसंद करती थी, जिसके चलते दोनों को एक-दूसरे के साथ समय बिताना अच्छा लगता था। दोनों के परिवार के बीच काफी मेलजोल भी था, जिसके कारण उनका रिश्ता और गहरा होते चला गया और जब दोनों किशोरावस्था में पहुंचे तो दोनों ने शादी करने का फैसला किया। लेकिन यहीं से बात बिगड़ गई। (ये भी पढ़ें: बॉलीवुड की मौसी और बुआ,​ जो अपने भांजे-भतीजे को करती हैं जान से भी ज्यादा प्यार)

दरअसल, नूतन की मां शोभना समर्थ तब अपने पति से अलग हो चुकी थीं और हर तरह के सलाह मशवरे और फैसले के लिए अपने एक्टर मित्र मोतीलाल से ही बात किया करती थीं। इसलिए जब उन्होंने मोतीलाल को नूतन और शम्मी के रिश्ते के बारे में बताया तो मोतीलाल ने इस रिश्ते के लिए साफ मना कर दिया। मोतीलाल की बात मान कर मां शोभना ने बेटी की भावनाओं को दरकिनार करते हुए, नूतन को पढ़ने के लिए स्विट्जरलैंड भेज दिया और इतनी दूरियां आते ही बचपन का ये प्यार अधूरा रह गया। हालांकि, बाद में नूतन और शम्मी कपूर ने 3 फिल्में जरूर साथ में की। लेकिन वो दोनों जीवन भर एक दूसरे के सिर्फ अच्छे दोस्त बन कर रहे।

नादिया गमाल के साथ रहा अफेयर

Shammi Kapoor's Love Life

बात साल 1953 की थी, जब शम्मी कपूर अपने भाई राज कपूर और शशि कपूर के साथ 'स्टार-स्टड क्रिकेट मैच' देखने के लिए श्रीलंका गए थे। जहां उनकी मुलाकात विदेशी बैली डांसर और इजिप्टियन एक्ट्रेस 'नादिया गमाल' से हुई। इस मुलाकात के बाद दोनों के बीच नजदीकियां बड़ी और दोनों रिलेशनशिप में आ गए, लेकिन कुछ समय बाद नादिया के वापस जाने पर ये रिश्ता टूट गया। इस पर बात करते हुए एक इंटरव्यू में शम्मी कपूर ने कबूल किया था कि "वो बहुत खूबसूरत थीं और मुझे उनसे प्यार हो गया था। वो इतनी खूबसूरत थीं कि मैं अपनी आंखें उनसे नहीं हटा सका।"

गीता बाली से हुआ प्यार, रचाई थी शादी

Shammi Kapoor's Love Life

अपने सहज और प्रभावी अभिनय के लिए मशहूर अभिनेत्री गीता बाली 50 के दशक की टॉप अभिनेत्रियों में शुमार थीं। वहीं साल 1955 में शम्मी कपूर ने उनसे फिल्म 'रंगीन रातें के सेट पर मुलाकात की और यहीं से दोनों का प्यार परवान चढ़ा, लेकिन दोनों के घरवाले इस शादी के लिए राजी नहीं थे। ऐसे में कपल ने घरवालों की इच्छा के खिलाफ जाकर मंदिर में शादी रचाई। कुछ वक्त तक घरवाले इस शादी से नाराज रहे, लेकिन फिर वो मान गए।

पत्नी के जाने का लगा था सदमा

Shammi Kapoor's Love Life

साल 1956 में इस जोड़े के घर बेटे 'आदित्य राज कपूर' और साल 1961 में बेटी 'कंचन कपूर' ने जन्म लिया। ऐसे में शम्मी और गीता पैरेंट्स बनने के बाद बेहद खुश थे, लेकिन नियति को तो कुछ और ही मंजूर था। साल 1965 के जनवरी महीने में गीता बाली अपनी एक फिल्म के सेट पर बीमार पड़ गईं थी और उन्हें चेचक हो गया था जिसके चलते उन्हें कई दिनों तक अस्पताल में भर्ती रखा गया था। जिसके बाद 21 जनवरी 1965 में महज 35 वर्ष की उम्र में ही वो चल बसीं। उनके जाने से शम्मी कपूर को बहुत बड़ा धक्का लगा था। कई सालों तक उन्हें रातों को नींद नहीं आती थी और उनके छोटे बच्चों आदित्य और कंचन को मां की जरूरत थी।

Shammi Kapoor's Love Life

गीता के बाद नीला देवी बनी शम्मी की दूसरी पत्नी

Shammi Kapoor's Love Life

गीता बाली के जाने के बाद शम्मी कपूर और बच्चों की देखभाल के लिए कपूर फैमिली ने उनके लिए एक अच्छी दुल्हन की तलाश शुरू कर दी थी। शम्मी कपूर की भाभी कृष्णा कपूर (राज कपूर की पत्नी) ने सोचा कि शम्मी के दोस्त रघुवीर सिंह की बहन नीला देवी उनके लिए सही रहेंगी। बताते चलें कि नीला देवी भावनगर राज्य के शाही परिवार से थीं और उनके माता-पिता की कपूर खानदान के साथ एक अच्छी बॉन्डिंग भी थी। ऐसे में बिना देर किए अगले दिन शम्मी के पिता पृथ्वीराज कपूर अपने बेटे के लिए नीला का हाथ मांगने के लिए उनके पिता के पास गए और उसी दिन यानी 27 जनवरी 1969 को शम्मी कपूर और नीला देवी शादी के पवित्र बंधन में बंध गए थे। (ये भी पढ़ें: ऐसी लड़की को डेट करना चाहते हैं कार्तिक आर्यन, एक्टर ने खुद किया था खुलासा)

वहीं, शादी होने से पहले एक दिन शम्मी कपूर ने नीला को अपने घर पर बुलाया और दोनों ने पूरी रात बात की। जहां शम्मी ने अपनी पहली शादी और बच्चों के बारे में उन्हें सब कुछ बताते हुए उन्हें शादी करने के लिए भी कहा, लेकिन शम्मी ने गीता के सामने एक शर्त रखी कि वो शादी के बाद मां नहीं बनेंगी और उन्हें गीता के बच्चों को ही अपना समझकर पालना होगा। इस बात पर नीला राजी हो गईं और वो ताउम्र मां नहीं बनी और गीता के बच्चों को ही अपने बच्चे माना। 

बीना रमानी को पसंद थे शम्मी कपूर

Shammi Kapoor's Love Life

गीता बाली के निधन के तुरंत बाद शम्मी कपूर ने प्रसिद्ध लेखिका और सोशलिस्ट बीना रमानी से मुलाकात की थी। ये बात उन्होंने अपनी आत्मकथा में कही थी जो उन्होंने बाद में लिखी थी। बीना ने खुलासा किया था कि वो शम्मी कपूर के प्रति बहुत आकर्षित थीं और लंबे समय तक उनसे प्यार भी करती रही थी। वास्तव में वो शम्मी कपूर से शादी करने के लिए तैयार थी, लेकिन कपूर फैमिली ने इस बात का समर्थन नहीं किया और बाद में बीना ने अमेरिका के एक बिजनेसमैन से शादी कर ली थी। हालांकि, शादी के कुछ समय बाद उनका तलाक हो गया था।

इस बीमारी की वजह से हुआ निधन

Shammi Kapoor's Love Life

वहीं एक समय वो भी आया जब शम्मी कपूर ने फिल्मी दुनिया से दूरी बना ली थी क्योंकि वो अक्सर बीमार रहने लगे थे। धीरे-धीरे उनके गुर्दो ने भी काम करना बंद कर दिया था, जिसके बाद 14 अगस्त 2011 को फिल्मों के रॉकस्टार शम्मी कपूर ने इस दुनिया को हमेशा-हमेशा के लिए अलविदा कह दिया था।

तो उम्मीद करते हैं कि आपको शम्मी कपूर की लव लाइफ के बारे में जानकर अच्छा लगा होगा। अगर आपको हमारी ये स्टोरी कैसी लगी? हमें कमेंट करके बताना न भूलें, साथ ही हमारे लिए कोई सलाह है तो जरूर दें। 

(फोटो: इंस्टाग्राम)
BollywoodShaadis.com © 2021, Red Hot Web Gems (I) Pvt Ltd, All Rights Reserved.